बालोद। नईदुनिया न्यूज

धनतेरस पर बाजार में जमकर खरीदारी हुई। शुक्रवार को बालोद बाजार में एक करोड़ से ज्यादा का कारोबार हुआ। सुबह से शाम तक सामनों की खरीदारी करने वालों के कारण चहल-पहल रही। मिट्टी के दीये, गणेश-लक्ष्मी की मूर्ति, फूल माला बेचने वालों की दुकाने सड़क पर लगी हैं। वहीं अन्य दिनों की अपेक्षा ग्राहकी बढ़ने से दुकानदार ज्यादा व्यस्त रहे। लक्ष्मी पूजन पर इस बार अच्छा कारोबार की उम्मीद व्यवसायी कर रहे हैं। ज्वेलरी सहित इलेक्ट्रानिक आइटमों और वाहनों की खरीदी अधिक रही। कुछ लोगों ने रंग और मॉडल के अनुरूप वाहनों की बुकिंग कराई। इलेक्ट्रानिक सामानों टीवी, मोबाइल, फ्रिज, वासिंग मशीन के कई बड़े दुकानों पर आफरों और ईमआई पर सामान के कारण लोगों ने जमकर खरीदी की।

ग्राहकों की भीड़ सुबह से रात तक लगे होने से व्यवसायी काफी उत्साहित नजर आए। शहर के सदर मार्ग, जवाहर मार्केट, फौव्वारा चौक, पुराना बस स्टैंड, मधु चौक, दल्ली चौक स्थित ज्वेलरी कपड़ा, साइकिल, बाइक दुपहिया, चारपहिया वाहनों की दुकानों में ग्राहक ज्यादा पहुंचे। महंगाई के बावजूद दिवाली के उत्साह में ग्राहकों में कोई कमी नहीं दिखी। दूरदराज से ग्राहक खरीदारी करने पहुंचे। नगर के चौराहों पर पंडाल लगाकर दुकानें लगाई गई है, जिसमें ग्राहकों की भीड़ लग रही है। इस वजह से राहगीरों को चलने में असुविधा हुई।

रंगोली का बाजार सजा

धनतेरस पर रंगोली का बाजार भी सजा रहा। मिठाई दुकानों में भी काफी भीड़ रही। दिवाली के आगमन के साथ ही लोगों के घर आंगन सुबह शाम रंगोली से सज रहे हैं। युवतियां महिलाएं रंगोली की खरीदारी करने में व्यस्त है। बाजार में रंगों की बहार छाई हुई है। रंगोली के साथ किताबे सांचे की बिक्री भी खूब हो रही है। पांच दिनों तक मनाये जाने वाले इस त्योहार के दूसरे दिन नरक चौदस में लोगों में उत्साह रहेगा। कार्तिक कृष्ण पक्ष त्रयोदशी से कार्तिक शुक्ल पक्ष द्वितीया तक पांच दिवसीय दीपोत्सव पर्व उल्लास एवं उत्साह से मनाया जाता है। मिठाई दुकानों में भी ग्राहकों की भीड़ देखी गई।

पूजा सामग्री की भी खरीदारी दुकानों में पैर रखने जगह नहीं

पूजा सामग्री लेने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लोग बड़ी संख्या में बाजार पहुंच रहे हैं। शुक्रवार को भीड़ का नजारा ऐसा था कि सड़क में पैर रखने की जगह नही थी। धनतेरस के उपलक्ष्य में सोमवार को बाजार में खूब रौनक रही। सुबह से शाम तक बर्तन, मिठाइयों सहित, ज्वैलर्स की दुकानों में लोगों की खूब भीड़ रही। लोग बाजार में धक्का-मुक्की करते हुए आगे की दुकानों तक पहुंचे। कारोबारियों की माने तो बाजार में इस बार सोने, चांदी से लेकर, बर्तन, फर्नीचर सहित इलेक्ट्रॉनिक्स, गिफ्ट आइटम, पटाखे सहित की एक करोड़ से ज्यादा की ब्रिकी हुई है, इससे कारोबारियों के चेहरे पर भी रौनक दिखे।

बर्तन खरीदना शुभ

इस दिन बर्तन को खरीदने की परंपरा है। लोगों ने बर्तन की दुकानों में खूब बर्तन की खरीदारी की। इसमें लोगों का स्टील के प्रति रूझान कम हो गया है। लोगों ने कांसे की थालियां, गिलास, तांबे के बर्तन अन्य बर्तन की जमकर खरीदारी की। इसके अलावा ज्वैलर्स की दुकानों में भी खूब भीड़ रही। इसमें सोने व चांदी के सि-े की खरीददारी की। इस दिन बर्तन की खरीददारी करना शुभ माना गया है। समय के बदलते ही अब लोगों का रूझान कांसे के बर्तन की ओर बढ; रहा है। धनतेरस के दिन बाजार में कांसे की थालियां, गिलास, आदि की खूब मांग रही। इसके अलावा स्टील के बर्तन भी लोगों ने खूब खरीदा।

सजावट का सामान खरीदा

दीपावली के लिए रंग बिरंगी लाइट्स सहित अन्य सजावटी सामान भी लोगों ने खरीदा। गिफ्ट सहित अन्य सामान की खूब मांग रही इसके अलावा लोगों ने एलईडी, फ्रिज, वाशिंग मशीन, गाड़ियों सहित अन्य चीजों की खूब खरीदारी की। लोगों ने शाम को धनवंतरि की पूजा की।

आज नरक चतुर्दर्शी, सजाए जाएंगे 14 दीप

आज नरक चतुर्दशी पर मिट्टी से यम के नाम 14 दीप बनाए जाएंगे और उन्हें प्रज्जावलित कर यम को प्रसन्न किया जाएगा। इस दिन लोग बिना पके मिट्टी के दीप जलाकर घर आंगन, कोठार, बाड़ी, दुआरी में दीप रखकर अच्छी फसल और सुख समृद्घि की कामना करेंगे। महिलाएं घर आंगन को गोबर से लिपाई कर रंगोली से और आकर्षक बना रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket