बालोद । 'गुरू घासीदास लोककला महोत्सव' का आयोजन राज्य स्तर पर 18 से 31 दिसंबर के मध्य किया जाएगा। इस अवसर पर अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों की पारंपरिक लोककला तथा लोकगीत, लोक गायन, लोक नृत्य जैसे, पंथी नृत्य, पंडवानी, भरथरी अनुसूचित जाति के लोगों के पारंपरिक लोक वाद्य आदि में कलाकारों की प्रतिभा की पहचान करने एवं उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। आदिवासी विकास विभाग की उपायुक्त माया वारियर ने बताया कि इसके जिला स्तर पर प्रविष्टियां 16 दिसंबर को शाम पांच बजे तक कार्यालयीन समय में प्रस्तुत किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि जिला बालोद से चयनित सर्वश्रेष्ठ दो दलों को राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भेजा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket