बालोद (नईदुनिया न्यूज)। शनिवार शाम को बालोद उपजेल की दीवार फांदकर भागने वाले दोनों कैदियों को

साइबर सेल, अर्जुंदा व डौंडीलोहारा की पुलिस टीम ने संयुक्त कार्रवाई कर गिरफ्तार कर लिया है। इसमें से एक हत्या व दूसरा दुष्कर्म के केस में जेल में बंद करने के आदेश कोर्ट ने दिए थे। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने दोनों कैदियों की पतासाजी में जुट गई थी।

पुलिस के मुताबिक शाम सात बजे के करीबन बालोद जेल से दीवार फांदकर कैदियों की भाग जाने की सूचना मिली थी। जिसके बाद पुलिस अधीक्षक ने तत्काल टीम गठित कर रवाना किया गया था। टीम जेल के पीछे जाने वाले रास्ते पर कैदियों को खोजन निकली थी। वहीं, जिले के सभी थाना व चौकी को अलर्ट किया गया था। उनके द्वारा रोड पर एमसीपी लगाकर समस्त आने जाने वाले वाहनों की जांच की गई। जब टीम आरोपितों के गांव में उनके घर के आसपास जाकर ग्रामीण वेषभूषा में उन पर नजर बनाए हुए थे।

फरार कैदी विकास यादव रविवार को सुबह 10 बजे अपने गांव भालूकोन्हा के पास खेत खलिहान में छुपे हुए था। टीम ने उसे घेराबंदी कर पकड़ा। वहीं, दूसरे कैदी शिव कुमार नेताम को पुलिस टीम ने ग्राम कामता में सोमवार को गिरफ्तार किया। दोनों फरार कैदी को पकड़कर पूछताछ करने पर आरोपितों ने बताया कि वे जेल के भीतर पूर्व से भागने की योजना बना रहे थे। दोनों अपने-अपने गांव जाकर घर से पैसा लेकर बाहर राज्य जाने की फिराक में थे।

शादी का प्रलोभन देकर नाबालिग से दुष्कर्म

शादी का प्रलोभन देकर नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपित युवक को गुंडरदेही पुलिस ने गिरफ्तार कर ज्युडिशियल रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस के मुताबिक 26 नवंबर को पीड़िता के पिता ने गुंडरदेही थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी नाबालिग बेटी को अज्ञात व्यक्ति के द्वारा अपहरण कर ले गया है। पुलिस ने अपराध पंजीबद्व कर विवेचना मे लिया था। विवेचना दौरान थाना प्रभारी गुंडरदेही निरीक्षक राकेश ठाकुर के द्वारा सायबर सेल से तकनीकी सहायत प्राप्त कर टीम गठित कर ग्राम सिलदहा थाना पथरिया रवाना किया गया। जहां पीड़िता को आरोपित लोकेश निषाद (21) के कब्जे से बरामद किया गया। पूछताछ में पीड़िता ने बताया कि आरोपित ने उसे शादी का प्रलोभन देकर भगा कर ले गया और शारीरिक संबंध बनाया। पुलिस ने पूछताछ करने के बाद आरोपित के विरुद्ध पाक्सो एक्ट और एससी/एसटी एक्ट जोड़ा गया। वहीं आरोपित से पूछताछ करने पर उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close