भटगांव। नगर स्थित महाविद्यालय व आइटीआइ परिसर शराबियों का अड्डा बन गया है। मैदान में दिनभर शराबियों का जमावड़ा रहता है। इस कारण छात्र-छात्राएं व महिलाएं इस मार्ग से गुजरने से कतराते हैं। आइटीआइ व कालेज परिसर के पास शराब भट्ठी भी है। इस कारण मैदान में बैठकर शराबी शराब पीकर डिस्पोजल, पानी पाउच का झिल्ली, शीशी वहीं छोड़ चले जाते हैं। इसके बावजूद शासन अपनी आंख मूंदे हुए है।

महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं को शासन द्वारा एक तरफ स्वस्थ भारत मिशन के लिए जागरूक कराया जा रहा है वहीं महाविद्यालय परिसर व मार्ग पर सफाई की भारी कमी देखी जा रही है। महाविद्यालय व भट्टी के मुख्य मार्ग पर चखना दुकान 24 घंटे खुला रहता है। इसमें बैठकर पीने का इंतजाम भी किया गया है जिस पर आबकारी व पुलिस का ध्यान नहीं है। वहीं छात्र-छात्राएं महाविद्यालय जाने के लिए शराबियों के भय से कतराते हैं क्योंकि पूरे महाविद्यालय मार्ग व मैदान पर दिनभर शराबी बैठे रहते हैं। उसके समीप के खेत वाले कृषक डिस्पोजल के कचरे, शीशे के टुकड़े से परेशान हैं। शीशी को फोड़कर खेत में डाल दिया जाता है जिससे निदाई के समय कृषक मजदूर के पैरों में चोट आ जाती है।

----------

शराबियों द्वारा जो गंदगी की जाती है उससे बहुत परेशान हैं। रोजाना साफ सफाई करवाते हैं। नजर में आने वाले शराबियों को मना भी करते हैं लेकिन इससे संबंधित प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

-डा. एसके शुक्ला, प्राचार्य शासकीय महाविद्यालय भटगांव

-------

शराबियों को शराब पीते देखते हैं तो भाग जाते हैं। पूर्व में छात्रों ने उक्त संबंध में हड़ताल की थी लेकिन अधिकारियों के दबाव में कुछ नहीं कर पाए।

-एमडी डहरिया, प्राचार्य आइटीआइ

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local