बलौदाबाजार। प्रदेश में खाद, बिजली, पानी व किसानों की विभिन्न समस्या को लेकर भाजपा 26 जुलाई को विधानसभा स्तरीय धरना प्रदर्शन करेगी। इस संबंध में भाजपा किसान मोर्चा जिला बलौदाबाजार की विशेष बैठक भाजपा जिला कार्यालय में हुई। इसमें राष्ट्रीय मंत्री किसान मोर्चा पिंकी शिवराज शाह, प्रदेश प्रभारी किसान मोर्चा संदीप शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष भाटापारा विधायक शिवरतन शर्मा, जिलाध्यक्ष डा. सनम जांगड़े व जिला प्रभारी किसान मोर्चा व्यासनारायण साहू व जिलाध्यक्ष किसान मोर्चा पवन वर्मा

मौजूद थे।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश प्रभारी संदीप शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश के सभी सहकारी सोसाइटियों में खाद की कमी बता रही है लेकिन व्यपारियों के पास अधिक मात्रा में खाद उपलब्ध है। अभी खेती-बाड़ी का समय है और किसानो को सोसाइटियों से खाद नहीं मिल पा रहा है। मजबूरी में किसान अधिक कीमत देकर व्यपारियों से खरीद रहे हैं। केंद्र सरकार द्वारा पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध किया गया है लेकिन राज्य सरकार के कुप्रबंधन के कारण किसान भटक रहे हैं। इसी विषय को लेकर पूरे प्रदेश में विधानसभा स्तरीय विशाल धरना प्रदर्शन 26 जुलाई को किया जाएगा। जिसमें प्रत्येक विधानसभा में 2000 से भी अधिक किसान व कार्यकर्ता सम्मिलित होंगे। बैठक को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय मंत्री किसान मोर्चा पिंकी शाह ने कहा कि 15 साल प्रदेश में डा. रमन सिंह की सुशासन की सरकार रही। 2018 के चुनाव में कांग्रेस पार्टी लोक लुभावन वादा करके सरकार में आई है तबसे किसानों को परेशान कर रही है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार जनता को गुमराह कर अपने वादे से मुकर रही है। न संपूर्ण कर्ज माफी किया और न ही किसानों को बोनस का पूरा पैसा दिया और अभी किसानों को न खाद उपलब्ध करा पा रही है और न ही बिजली। आज किसान परेशान हैं। किसानों के कारण सत्ता में आई कांग्रेस सरकार को आने वाले चुनाव में किसान ही सत्ता से बाहर करेगी।

शिवरतन शर्मा ने कहा कि जबसे कांग्रेस की सरकार प्रदेश में आई है सिर्फ झूठ व किसानों को ठगने का काम किया है। 2018 चुनाव से पहले डा. रमनसिंह की सरकार ने किसानों को बिना ब्याज का ऋण मुहैया कराती थी किसानों को सिंचाई के लिए मोटर पंप कनेक्शन प्रदान किया। धान की खरीदी एक नवंबर से की जाती थी और पूरा पैसा एक साथ ही देता था। न कभी बारदाने की कमी हुई और न ही किसानों को धान बेचने में कोई परेशानी हुई। लेकिन भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार लोक लुभावन वादा कर जबसे सत्ता में आई है तबसे धान खरीदी एक नवंबर की जगह एक माह विलंब से शुरू किया तबसे किसान चौतरफा मार झेल रहे हैं। किसानों को धान की भंडारण व रखरखाव में अतिरिक्त खर्च करना पड़ रहा था। सरकार 25 सौ रुपये प्रति क्विंटल की हिसाब से खरीदी तो कर रही है लेकिन किसानों को 21 सौ रुपये से ज्यादा नहीं मिल रहा है। क्योंकि खेत का रकबा मेढ़ के नाम पर रकबा काटकर खरीदी कम किया और बारदाना खरीदने में किसान को प्रति बोरी 40 रुपये अतिरिक्त देना पड़ा। एक माह विलंब से खरीदने से प्रति क्विंटल पांच किलो सुखत का भार पड़ा। साथ ही समर्थन मूल्य का केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली राशि तो एक मुश्त मिल गया लेकिन प्रदेश सरकार का समर्थन मूल्य के अतिरिक्त राशि को चार किश्तों में देकर किसान के साथ अन्याय किया। बैठक को जिला प्रभारी व्यासनारायण साहू, जिलाध्यक्ष डा. सनम जांगड़े व किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष पवन वर्मा ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री अमित वर्मा व हेमसिंह चौहन ने किया। आभार प्रदर्शन जिला उपाध्यक्ष नरेश केसरवानी ने किया। बैठक में शिवराज शाह (पूर्व विधायक मंडला मध्य प्रदेश), योगेश चंद्राकर, डा. अजय राव, विजय केसरवानी, डा. कुशल वर्मा, राकेश तिवारी, ओमप्रकाश चंद्रवंशी, नंदकुमार साहू, भुनेश्वरी वर्मा, कृष्णा अवस्थी, शिवशंकर अग्रवाल, द्वारिका वर्मा, संकेत शुक्ला, मणीकांत मिश्रा, कुंजराम पटेल, रामकुमार साहू, ओंकेश्वर वर्मा, पुनीतराम यादव, सुनील यदु, पुरुषोत्तम सोनी आदि मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags