पड़कीडीह। नईदुनिया न्यूज

विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी ग्राम पड़कीडीह में असत्य पर सत्य की जीत का पर्व एक दिन बाद धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान रामलीला का मंचन हुआ। रामलीला मैदान में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम और राक्षस राज लंकेश का घमासान युद्ध हुआ। बार-बार रावण का सिर कटने के बाद अंत में श्रीराम ने रावण का वध किया। जैसे ही बुराई का प्रतीक रावण का अंत हुआ इस दौरान रामलीला मैदान में उपस्थित श्रद्धालुओं ने एक-दूसरे को सोनपत्ती भेंट कर विजयदशमी की शुभकामनाएं दी। राम का अभिनय जितेंद्र कुमार वर्मा, लक्ष्मण तेजराम वर्मा(पंचायत सचिव) हनुमान सेवाराम ध्रुव, विभीषण दिलेश्वर वर्मा, रावण रवि यदु, ग्राम के उपस्थित वरिष्ठ अभिनय कर्ता के बुजुर्ग वरिष्ठ नागरिक भत्तेलाल वर्मा, पूर्व विधायक जनक राम वर्मा, शकुंतला धनंजय बघमार, सरपंच चोवाराम ध्रुव, घनश्याम वर्मा, ईश्वरी वस्त्राकार, केशव वर्मा, माखनलाल वर्मा (रावन वाले) योग प्रचारक दीपक वर्मा,सहित आसपास गांवों से आए हजारों दर्शक उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network