भटगांव। भटगांव विद्युत वितरण विभाग में एक बड़ा घोटाला सामने आया है। जहां बिल संग्रहण करने वाले सीएससी ने 282 बिजली उपभोक्ताओं का बिजली बिल लेकर जमा ही नहीं किया है। मामले की जानकारी होते ही बिजली विभाग के अधिकारी व उपभोक्ता सन्ना रह गए। सीएससी संचालक पर जांच कर कार्रवाई करने की कवायद अधिकारी लोग कर दी है। वहीं सीएससी संचालक ने 22 जनवरी को भटगांव थाने में एफआइआर दर्ज कराई है।

विद्युत वितरण कंपनी भटगांव के उपभोक्ताओं का बिजली बिल संग्रहण के लिए सीएससी संचालक मोहन दास पिता अनूप दास ग्राम ठरकपुर को ठेका मिला है। मोहन दास ने भटगांव विद्युत वितरण केंद्र अंतर्गत आने वाले बिजल बिल के संग्रहण के लिए तीन आपरेटर धनेश्वर दास पिता गौतमदास ग्राम ठाकुरदीया, नवीनदास पिता अमृत दास ग्राम पिसीद व राजुदास नगर बिलाईगढ़ की नियुक्त की। जो सीएससी के माध्यम से उपभोक्ताओं से बिजली बिल संग्रहण का काम कर रहे थे और 282 बिजली बिल उपभोक्ताओं से बिजली बिल का पैसा लेकर कंपनी में जमा नहीं किया। मोहन दास ने मामले की जानकारी मिलने पर भटगांव थाने में शिकायत दर्ज कराई है। विद्युत वितरण विभाग में भी इतनी बड़ी रकम और उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी सीएससी के माध्यम से होने से हड़कंप मच गया और विभागीय जांच जारी कर दी है।

-----

भटगांव विद्युत वितरण विभाग द्वारा बिजल बिल के संग्रहण के लिए मुझे ठेका दिया गया था। जिसके अंतर्गत आने वाले उपभोक्ताओं के बिजली बिल लेने का कार्य किया जा रहा था। मैंने बिजली बिल संग्रहण के लिए तीन आपरेटर रखे थे। जिन्होंने लापरवाही करते हुए मुझे व विभाग को चूना लगाने का काम किया है। मैंने थाने में इसकी शिकायत की है।

मोहनदास, सीएससी संचालक

----

घटना सही है। आफिस में डिटेल्स मिल सकता है।- राठौर, ईई

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local