बलौदाबाजार (नईदुनिया न्यूज)। पुलिस कार्यालय सभाकक्ष में मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार अमर बलिदानी जवानों को श्रद्घांजलि अर्पित करने के लिए हमर तिरंगा सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया। सर्वप्रथम दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। इसके बाद बलिदानी वीर जवानों के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया। जिले से विभिन्ना नक्सल मोर्चे पर अदम्य साहस का परिचय देते हुए वीरगति को प्राप्त कुल 10 पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी बलिदान हुए हैं।

कार्यक्रम में इन सभी बलिदानी वीर जवानों की शौर्य गाथा को याद कर जिले में निवासरत उनके परिवारजनों का सम्मान किया गया। इस दौरान बलिदानी वीर जवानों का विभिन्ना नक्सल प्रभावित जिलों में पदस्थापना के दौरान, नक्सलियों के विरुद्घ उनके अदम्य साहस एवं वीरता को याद करते हुए उनका जीवन परिचय दिया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में शकुंतला साहू संसदीय सचिव एवं विधायक कसडोल, शैलेश नितिन त्रिवेदी अध्यक्ष पाठ्य पुस्तक निगम, सुरेंद्र शर्मा अध्यक्ष कृषक कल्याण बोर्ड, हितेंद्र ठाकुर जिला अध्यक्ष कांग्रेस पार्टी ने संबोधन में बलिदानी वीर जवानों के स्वजनों का हौसला बढ़ाते हुए कहा गया कि आज इन्हीं जवानों की वीरता के कारण आम रहवासी आज सुरक्षित हैं। सभी वीर जवानों को शत-शत प्रणाम। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा ने बलिदानी वीर जवानों को नमन करते हुए कहा कि संपूर्ण राज्य वीर बलिदानियों का सदैव ऋ णी रहेगा।

जिले से छत्तीसगढ़ पुलिस बल के बलिदानी उपनिरीक्षक विवेक शुक्ला, उपनिरीक्षक युगल किशोर वर्मा, आरक्षक नंदकुमार साहू, आरक्षक हुमेश्वर प्रसाद कुर्रे, आरक्षक हीरालाल गायकवाड़, आरक्षक संतराम साहू, आरक्षक धनंजय वर्मा, आरक्षक संतोष धु्रव, आरक्षक मिथिलेश कुमार साहू एवं सीआरपीएफ से आरक्षक टेकराम वर्मा विभिन्ना नक्सल प्रभावित जिलों में तैनात होकर अदम्य साहस एवं वीरता का परिचय देते हुए वीरगति को प्राप्त हुए हैं।

कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथियों द्वारा बलिदानी वीर जवानों के स्वजनों को सम्मान स्वरूप प्रतीक चिन्ह, शाल, श्रीफल, उपहार एवं तिरंगा झंडा देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत मे पीताम्बर पटेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों एवं बलिदानी वीर जवानों के स्वजनों का धन्यवाद प्रकट करते हुए आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में सिद्घार्थ बघेल एसडीओपी भाटापारा, संजय तिवारी एसडीओपी बिलाईगढ़, सुभाष दास एसडीओपी बलौेदाबाजार, अनूप बाजपेई उप पुलिस अधीक्षक बलौदाबाजार, विक्रम बघेल रक्षित निरीक्षक बलौदाबाजार एवं पुलिस अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

13 बलिदानी के परिवार को किया सम्मानित

गरियाबंद (नईदुनिया न्यूज)। आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर हमर तिरंगा बलिदानी के परिवारों का सम्मान कार्यक्रम अंतर्गत शनिवार को जिला एवं पुलिस प्रशासन द्वारा जिले के 13 बलिदानी के परिवार को शाल, श्रीफल और तिरंगा देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर बलिदानी के स्वजनों से चर्चा करते हुए जिला एवं पुलिस प्रशासन ने उनकी समस्याओं को सुना और समाधान का भरोसा भी दिलाया।

समारोह का आयोजन पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभाकक्ष में किया गया था। इसके मुख्य अतिथि जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी साहू थी। अध्यक्षता जिला कांग्रेस अध्यक्ष भावसिंह साहू ने की। इस अवसर पर कलेक्टर प्रभात मलिक, पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ रोक्ति मा यादव सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी कर्मचारी भी मौजूद थे। कार्यक्रम की शुरूआत छत्तीसगढ़ के राजकीय गीत तथा बलिदानी जवानो को पुष्पाजंलि अर्पित कर की गई।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि लक्ष्मी साहू ने कहा कि बलिदानी के बलिदान और कार्यो को शब्दों में पिरोया नहीं जा सकता है। मैं जिले के बलिदानी के स्वजनों को नमन करती हूं, जिन्होंने देश को ऐसे वीर सपूत दिए जो देश की सेवा और रक्षा के लिए अपने प्रांणों की आहुति देने से भी पीछे नहीं हटे। कलेक्टर प्रभात मलिक ने कहा कि जिला एवं पुलिस प्रशासन का बलिदानी के परिजनों से भेंट एक छोटा सा पहल है। जिन्होंने प्रदेश एवं देश के लिए शहादत दी है, ऐसे वीर सपूत के परिजनों को नमन है। उन्होने कहा कि बलिदानी परिवार अपने आप को अलग-अलग ना समझें बल्कि अपने परिवार की तरह ही जिला प्रशासन को भी अपना समझें। कलेक्टर ने आश्वस्त किया कि जो समस्या उनके समक्ष रखी गई है सभी का त्वरित निराकरण का प्रयास करेंगे।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर ने कहा कि पुलिस प्रशासन हमेशा देश और समाज के लिए कुर्बान हुए बलिदानी के परिवारों के साथ हैं, हर कदम पर हम उनके साथ हैं। जिले के 13 बलिदानी परिवार है। इन परिवारों को हम कभी भुला नहीं सकते। उन्होंने कहा कि किसी भी समस्या होने पर हमसे तत्काल संपर्क कर सकते हैं। इस दौरान सम्मान पाकर कई परिजनों की आंखें भर आई। अपने बलिदानी बेटे की याद में कई माता पिता की आंखें नम हो गई। परंतु जब उन्हे तिरंगा देकर सम्मानित किया गया तो गर्व महसुस करते हुए कहा कि हमारे बेटे की शहादत व्यर्थ नही गई। मौके पर ग्राम करचिया के जागेश्वर टांडिल्य ने देवभोग आईटीआई का नाम बलिदानी भोज सिंह टांडिल्य के नाम पर करने शासन के पूर्व घोषणा की ओर कलेक्टर और एसपी का ध्यान आकृष्ट किया। कलेक्टर और एसपी ने शासन स्तर से हर संभव प्रयास का भरोसा दिलाया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close