सिमगा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। एक ही परिवार के तीन लोगो की करंट की चपेट में आने से हुई दर्दनाक मौत । मौत का समाचार मिलने के बाद ग्राम दामाखेड़ा में शोक की लहर दौड़ गई। बताया गया कि जिस तार में वह कपड़ा सूखा रही थी, उसमें करंट आ गया। मां को करंट लगा देखकर पहले उनका पुत्र उन्हें बचाने आया पर वह भी करंट से चिपक गया। तभी छोटी पुत्री भी इन्हें बचाने आ गई। तीनों की इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना में मौत हो गई।

सिमगा थाना क्षेत्र के ग्राम दामाखेड़ा में देवांगन परिवार की महिला कमलेश्वरी देवांगन पति देवेन्द्र देवांगन उम्र 36 वर्ष अपने घर के आंगन में लगे लोहे के तार पर कपड़े सुखा रही थी। इसी बीच वह करेंट की चपेट में आ गई। मां को करंट लगा देखकर पुत्र शेषकुमार देवांंगन (14 वर्ष) अपनी मां को बचाने दौड़ा। जिससे वह भी करेंट की चपेट में आ गया ।

मां और भाई को करेंट की चपेट में देखकर बहन जया देवांगन (12 वर्ष) भी उन्हें बचाने दौड़ी परंतु वह भी करेंट की चपेट में आ गई । उस समय घर में कोई बड़ा सदस्य नहीं था। घटना की जानकारी मिलने पर घर के बाकी सदस्य घर आए। वहां मां एवं दोनों बच्चे मृत पड़े थे। घटना की जानकारी सिमगा पुलिस को दी गई। इनके जीवित होने की प्रत्याशा में पंथ श्री गृन्धमुनि नाम साहेब अस्पताल के एम्बुलेंस में उपचार हेतु शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। जहां डाक्टर ने जांच उपरांत तीनों को मृत घोषित किया। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए।

आरपीएफ व जीआरपी ने किया फ्लैग मार्च

स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर एएन सिन्हा प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त आरपीएफ बिलासपुर तथा संजय गुप्ता मंडल सुरक्षा आयुक्त आरपीएफ रायपुर के निर्देशन में निरीक्षक आरएस मिश्रा, रेसुब पोस्ट भाटापारा एवं सहायक उप निरीक्षक जी एस पैंकरा शासकीय रेलवे पुलिस भाटापारा के अधिकारी व जवानों ने रेलवे परिक्षेत्र, प्लेटफार्म एवं सरकुलेटिंग एरिया में फ्लैग मार्च किया

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close