Surya Mangal Rashi Parivartan 2020 : तिल्दा-नेवरा। आत्मा का कारक सूर्य देव अगले सप्ताह 16 अगस्त रविवार को कर्क राशि से निकलकर सूर्य स्वयं की सिंह राशि में प्रवेश करेंगे। वहीं मंगल भी सूर्य के साथ 16 अगस्त को राशि परिवर्तन कर रहे हैं। मंगल ग्रह का राशि परिवर्तन सभी राशियों पर अपना शुभ-अशुभ प्रभाव डालेगा। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल एक क्रूर ग्रह है जो ऊर्जा जमीन सेना साहस आदि का कारक है। यह मेष और वृश्चिक राशि का स्वामी है।

हालांकि दोनों ग्रहों के राशि परिवर्तन से मार्केट में सोना चांदी व जमीनों के भाव में बढ़ोतरी और खरीदारी बढ़ेगी। ज्योतिषाचार्य पंडित संतोष शर्मा ने बताया कि सूर्य देव स्व राशि में शाम को 7ः11 पर प्रवेश करेंगे। इससे पूर्व आक्रमक ग्रह मंगल भी अपनी स्व राशि मेष में शाम 6 बजकर 34 मिनट पर प्रवेश करेंगे। दोनों ग्रह ब्रह्मांड में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। दोनों का खुद की राशि में जाने का यह संयोग सभी राशियों को लिए श्रेष्ठ फल दायक बनेंगे। विशेषकर मिथुन, तुला, कुंभ और मीन राशि में जन्मे लोगों को आने वाला समय लाभदायक होगा।

सूर्य 16 सितंबर को शाम 7 बजकर 8 मिनट तक रहेंगे। जबकि मेष राशि में ही रहकर मंगल ग्रह 10 सितंबर को तड़के 3ः50 बजे वक्री होंगे। और यहां से चलते हुए 4 अक्टूबर को सुबह 10ः05 को मीन राशि में फिर से प्रवेश कर जाएंगे। स्वास्थ्य के लिहाज से भी अगस्त का महीना ठीक-ठाक रहने वाला है। इसके अलावा में वृष, मिथुन, कर्क, कन्या, वृश्चिक और मकर वालों को इस महीने कैरियर लाइफ से लेकर स्वास्थ्य में भी सतर्क रहने की जरूरत होगी।

ज्योतिषाचार्य पवन शास्त्री रीवा वाले ने बताया कि सूर्य व मंगल का राशि परिवर्तन सोने चांदी व भूमि भवन के भाव में बढ़ोतरी करेंगे। धातु व जमीने महंगी होगी, लेकिन खरीदारों की संख्या भी कम नहीं होगी। बल्कि दाम बढ़ने के बावजूद खरीद में बढ़ोतरी होगी। पूर्वाफाल्गुनी और बुध का योग पड़ोसी देशों में कला बढ़ाएगा। किसी विशिष्ट व्यक्ति की आकस्मिक मृत्यु से देश को क्षति हो सकती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close