टुंडरा। छत्तीसगढ़ आदिवासी गोड़ समाज का प्रदेश स्तरीय महासम्मेलन महानदी किनारे स्थित सत्संग भवन में हुआ। महासम्मेलन के तीन मुख्य उद्देश्य थे। जिसमें राज्य स्तर पर गोड़ समाज का प्रदेश स्तरीय अध्यक्ष, सचिव सहित सभी सामाजिक पदाधिकारियों का चुनाव करना, सामजिक समिति का गठन व समाज को शिक्षा की ओर प्रेरित करते हुए समाज के लोगों को अधिक से अधिक शिक्षित करना था।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पामगढ़ विधायक इंदु बंजारे थीं। अध्यक्षता पूर्व विधायक दुजराम बौद्घ ने की। वरिष्ठ समाज सेवी विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे। इस दौरान सभी अतिथियों का सम्मान डा. भीमराव अंबेडकर के छाया चित्र, श्रीफल और पुष्प भेंट कर किया गया। वहीं समाज के प्रतिभावान लोगों का सम्मान किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक इंदु बंजारे ने कहा कि हम सभी लोगों को एकजुट रहने की आवश्यकता है। समाज के विकास के लिए सबकी सहभागिता बहुत जरूरी है। समाज के सभी बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाएं, शिक्षित बनाएं। भले ही एक दो निवाला कम खाएं लेकिन बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने का प्रयास हर संभव करना चाहिए क्योंकि ये सभी बच्चे हमारे भविष्य हैं। इस दौरान आदिवासी गोड़ समाज ने सामाजिक भवन की मांग की जिस पर विधायक इंदु बंजारे ने आश्वासन दिया। वहीं पूर्व विधायक दुजराम बौद्घ सहित अनेक लोगों ने आदिवासी गोड़ सामाज के सभा को संबोधित किया। इस दौरान गोड समाज के पदाधिकारियों सहित विधायक प्रतिनिधि विक्की ठाकुर भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में प्रदेश के कई अन्य जिला से आए समाज के 500 से अधिक आदिवासी समाज के लोग उपस्थित थे।

लच्छीराम प्रदेश अध्यक्ष और दाऊसिंग बने सचिव बने : इस दौरान सर्वसम्मति से प्रदेश आदिवासी गोड़ समाज के अध्यक्ष लच्छीराम गोंड़ ग्राम पंचायत घटमड़वा तहसील कसडोल को बनाया गया। वहीं सचिव दाऊसिंग गोंड़ ग्राम पंचायत बलौदा को चुना गया। समाज के अन्य और पदाधिकारियों का विस्तार अगली सामाजिक बैठक में करने का निर्णय समाज के लोगों ने लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local