बालोद । विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के अंतर्गत देश में सौ करोड़ लोगों का कोरोना टीकाकरण पूर्ण होने पर जिले में भारतीय जनता पार्टी ने कई कार्यकर्मों का आयोजन किया। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने इस सफलता के लिए प्रधानमत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देते हुए जिले के सभी स्वास्थ्य कर्मियों का आभार जताया है।

भाजपा का कहना है कि चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों की मेहनत की वजह से ही भारत दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया जहां सौ करोड़ लोगों को कोविड वैक्सीन लग चुकी है। धन्यवाद मोदीजी कार्यक्रम के तहत भाजपाइयों ने जिला अस्पताल में शुक्रवार को अपनी जान की परवाह किए बगैर कार्य कर रहे समस्त डाक्टर, नर्स, सफाई कर्मी और स्वास्थ्य अमले का वैक्सीनेशन सेंटर मे सम्मान का कार्यक्रम रखा। जहां स्वास्थ्य कर्मियों को अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया गया। टीकाकरण केंद्र में चाय, बिस्किट, जूस व फल आदि का भी वितरण किया गया।

जिले में यह अभियान एक आंदोलन के रूप में चला, जिसका परिणाम यह रहा कि जिले में अब तक 91 फीसद लोग पहला टीका लगवा चुके हैं। कार्यक्रम के दौरान प्रदेश मंत्री राकेश यादव के अलावा जिलाध्यक्ष कृष्णकांत पवार, नरेश यदु, वरिष्ठ नेता पवन साहू, शाहिद खान, तोमन साहू, शरद ठाकुर, राकेश यादव छोटू, सुरेश निर्मलकर, प्रेम साहू, पालक ठाकुर, त्रिलोकी ठाकुर, दयानंद साहू, संतोष कौशिक, नरेंद्र सोनवानी, लीला शर्मा, दीपा साहू, प्रेमलता साहू, हितेश्वरी कौशिक, सुनीता मनहर, विनोद जैन, कमल पंपालिया, अशवन बारले, शेखर वर्मा, गणेश साव, बंटी बाफना, कमलेश सोनी आदि मौजूद रहे।

केंद्र पर लगाए गए गुब्बारे लगाए

कोरोना संक्रमण को कम करने के लिए वैक्सीनेशन महाअभियान जारी है। देश में 100 करोड़ डोज पूरे होने पर जिले में भाजपा जश्न मना रही है। जिला मुख्यालय के केंद्र पर गुब्बारे लगाए गए वही सौ करोड़ को प्रदर्शित करती रंगोली बनाई गई। जिले में 5.49 करोड़ आबादी को वैक्सीन लगनी है। इसमें से अब तक पहला डोज 4.96 करोड़ लोगों ने लगवाया है। वहीं, दोनों डोज अभी 1.81 करोड़ लोगों को लगा है।

पीएम मोदी और स्वास्थ्यगत अमला बधाई के पात्र

टीकाकरण निरंतर करते रहने का आह्वान करते हुए भाजपा के प्रदेश मंत्री राकेश यादव ने बताया कि यह अभूतपूर्व प्रदर्शन है, इसके लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व स्वास्थ्य अमले को बधाई के पात्र मानते हैं। उनके निर्देशन में मुश्किल परिस्थितियों में भी टीकाकरण निरंतर चलता रहा और आगे और तेजी से चलेगा। उन्होंने कहा कि सौ करोड़ वैक्सीनेशन होना देश के लिए ऐतिहासिक क्षण है।

कोरोना के खिलाफ लड़ाई अभी बाकी है

भारत के लिए कोरोना लड़ाई के लिहाज से गुरुवार का दिन ऐतिहासिक है, अद्भुत है और कई मायनों में देश की इच्छाशक्ति का परिचय देता है। चुनौतियां आईं, दूसरी लहर ने तबाही मचाई, लेकिन फिर भी सौ करोड़ का ये महत्वकांक्षी आंकड़ा छुआ गया। लेकिन कोरोना के खिलाफ लडाई खत्म नहीं हुई है। 100 करोड़ के आंकड़े के पीछे भी कुछ ऐसे तथ्य छिपे हैं जिन्हें ना नजरअंदाज किया जा सकता है और ना ही जिन्हें नजरअंदाज किया जाना चाहिए।

जिले में पहला-दूसरा डोज के बीच भारी अंतर

जिले में पांच लाख 99 हजार 790 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है, जिसमें 91 फीसद लोगो को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। लेकिन इसमें कितने ऐसे हैं जिन्हें पहला डोज लगा है और कितने ऐसे हैं जो दोनों डोज लगवा चुके हैं, जिले में इस समय मात्र 44 फीसद लोगों को ही कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगा। वहीं सिंगल डोज लेने वालों की संख्या 91 फीसद के आस-पास चल रही है। मतलब तय लक्ष्य के हिसाब से अब तक पांच लाख 43 हजार 499 लोगों को टीका लगाया जा चुका है, उनमें मात्र दो लाख 65 हजार 446 लोगो ने कोरोना की दूसरी डोज ली है। ये अपने आप एक चिंताजनक है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local