बालोद ।बालोद पैन इंडिया आउटरीच अभियान के अंतर्गत जिला एवं सत्र न्यायधीश बालोद एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बालोद के विनोद कुजुर के मार्गदर्शन में रविवार को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का आयोजन उप पंजीयक कार्यालय बालोद में प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश बालोद मनोज कुमार सिंह ठाकुर की अध्यक्षता तथा मनोरोग विषय पर विशेष अनुभव अनुभवी उमेश अग्रवाल की विशेष उपस्थिति में विशेष जागरूकता शिविर व वर्कशॉप का आयोजन उप पंजीयक कार्यालय बालोद में आयोजित किया गया।

आयोजन में प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार सिंह ठाकुर द्वारा मानसिक बीमार व्यक्तियों का उपचार प्राप्त करने का अधिकार तथा सभी मानवीय अधिकार और मौलिक स्वतंत्रता के हकदार हैं, पर्याप्त आवास गैर पक्षपात के संबंध में कानूनी जानकारी दी गई। उनके अधिकारों एवं कर्तव्यों तथा भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 से उत्पन्न उपचार एवं उचित स्वास्थ्य की देखरेख का अधिकारी सभी मानसिक बीमार व्यक्तियों पर समान रूप से लागू होता है। इसलिए विधिक सेवा संस्थानों को सुनिश्चित करना चाहिए कि ऐसे व्यक्ति मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम 1987 के अध्याय चार में लागू प्रावधानों के माध्यम से मनोचिकित्सक अस्पतालों अथवा मनोचिकित्सक नर्सिंग होम में उपचार की उपलब्ध सुविधाओं तक सुगमता पूर्वक अभिगमन कर सके की जानकारी दी गई।

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बालोद सुमन सिंह द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि मानसिक रूप से विक्षिप्त लोगों को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बालोद द्वारा पुलिस विभाग से सामंजस्य स्थापित कर डाक्टरी मुलाहिजा कराकर उन्हें न्यायालय के माध्यम से इलाज के लिए सेंदरी बिलासपुर भेजा जाता है। जहां उनका इलाज कराया जाता है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण वालों द्वारा बहुत सारे मानसिक रूप से बीमार लोगों को सेंदरी के माध्यम से इलाज कराया गया की जानकारी दी गई। उमेश अग्रवाल द्वारा अपने उद्बोधन में बताया गया कि मानसिक रूप से बीमार व्यक्तियों तक नालसा की योजनाओं का लाभ मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति को प्राप्त हो सके तथा जमीनी स्तर पर जो विभाग इस हेतु कार्यवाही कर रहे हैं। कार्यक्रम का मंच संचालन पैरा लीगल वालंटियर रमेश शर्मा एवं आभार प्रदर्शन अधिवक्ता धीरज उपाध्याय द्वारा किया गया। विशेष जागरूकता शिविर व वर्कशाप के आयोजन में प्रशिक्षण न्यायाधीश कोनिका यादव, गुरु प्रसाद देवांगन, कमलेश्वर साहू, अजय बंजारे सहित पुलिस विभाग मितानिन तथा विधि छात्र कुल 200 की संख्या में उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local