बालोद (नईदुुनिया न्यूज)। नगर पालिका प्रशासन द्वारा बालोद शहरवासियों को शुद्घ और पर्याप्त पेयजल की सुविधा देने के लिए जल आवर्धन योजना के तहत गंजपारा में वाटर फिल्टर प्लांट का निर्माण कार्य अब तक पूरा नहीं हुआ है। मशीनों की फिटिंग सहित कई छोटे-छोटे काम अब तक अधूरे होने के चलते यह योजना मूर्त रूप नहीं ले पाई है। इसी के चलते शहरवासियों को इस योजना का लाभ अब तक नहीं मिल पाया है। लगातार संबंधित विभाग के अधिकारी मात्र आश्वासन देते आ रहे हैं कि काम जल्द पूरा कर देंगे लेकिन असल में ऐसा हो नहीं रहा है। जिसके चलते सोमवार उस सभापति व पार्षद योगराज भारती नाराज हो गए जब वे कार्य स्थल का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे। कई छोटे छोटे काम अब तक न होने पर उन्होंने गहरी नाराजगी व्यक्त की। जलकार्य विभाग के सभापति योगराज भारती ने संबंधित ठेकेदार व उनके कर्मचारियों को 20 दिन में काम पूरा करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा यदि ऐसा नहीं हुआ तो फिर आंदोलन की चेतावनी दी। पार्षद व सभापति योगराज भारती ने कहा कि कुछ छोटे-छोटे काम ऐसे हैं जो अब तक नहीं हुए हैं।

अलग-अलग जगह के ठेकेदार काम कर रहें हैं। कभी एक ठेकेदार आता है तो दूसरा ठेकेदार गायब रहता है। इससे काम टलता जा रहा है। उन्होंने कहा पंप हाउस में बिजली का काम बचा है। कुछ मशीनों की फिटिंग अब तक अधूरा हैं। उन्होंने पीएचई से मांग की है कि सभी संबंधित एजेंसी के लोगों को एक साथ बुलाकर समय पर काम पूरा करवाया जाए ताकि कोई देरी न हो और समय पर जल आवर्धन योजना का लाभ शहरवासियों को मिल सके।

दिसंबर में जांच का है लक्ष्य

लगातार नगर पालिका प्रशासन द्वारा पीएचई पर दबाव बनाया जा रहा है कि जल्द काम पूरा करें। पीएचई के अफसर भी मात्र आश्वस्त कर रहे हैं कि दिसंबर में जांच का काम पूरा हो जाएगा लेकिन सभापति ने चिंता जाहिर की है कि जिस स्थिति व गति से काम चल रहा है। उससे नहीं लग रहा है कि 15 दिन में जांच हो पाएगा। इसलिए उन्होंने संबंधित ठेकेदारों को काम में तेजी लाने के निर्देश भी दिया हैं।

गर्मी में है साफ पानी देने का लक्ष्य

नगर पालिका अध्यक्ष विकास चोपड़ा ने कहा कि हमारा लक्ष्य आने वाली गर्मी में लोगों को शुद्घ पानी देने का है। इसलिए लगातार पीएचई विभाग को जल्द काम पूरा करवाने का लक्ष्य दिया गया है। यह काम और भी पहले हो जाता यदि पिछली सरकार इस पर गंभीरता से ध्यान देती। लेकिन तत्कालीन भाजपा सरकार ने गंभीरता से नहीं लिया था। इसके चलते काम देरी से हुआ और हम पिछले कार्यकाल से लगातार मांग करते आ रहे हैं। तब जाकर अब धीरे-धीरे काम यहां तक पहुंचा है। काम अंतिम चरण में है। ठेकेदारों को काम शीघ्र पूरा करने के लिए निर्देशित किया गया है। वहीं आने वाली गर्मी में हमारा लक्ष्य है कि योजना पूरी हो जाए और शहरवासियों को इसका लाभ मिलना शुरू हो जाए और आने वाले दिनों में लोगों को गर्मी में तीन टाइम पानी मिलनी शुरू हो जाएगी।

टैंकर मुक्त करने की भी योजना

जलकार्य विभाग के सभापति योगराज भारती ने कहा कि बालोद शहर को राज्य सरकार की योजना के मुताबिक टैंकर मुक्त करने की भी योजना है ताकि वार्डों में टैंकर के भरोसे न रहना पड़े और हर घर नल कनेक्शन देकर वाटर फिल्टर प्लांट से पेजयल आपूर्ति की जा सके। वर्तमान में अभी भी कुछ वार्डों में जल संकट बना रहता है। गर्मी में स्थिति और ज्यादा खराब हो जाती है। जिसे देखते हुए नगर पालिका प्रशासन का लक्ष्य है कि इस गर्मी में काम पूरा हो जाए।

तांदुला डैम से होगी पानी की आपूर्ति

ज्ञात हो कि बालोद जिले के प्रमुख तांदुला डैम से ही जल आवर्धन योजना के लिए पानी की आपूर्ति होगी। इसके लिए डैम के नीचे भी संपवेल का काम पूरा हो चुका है। वहां पर आपूर्ति के लिए बिजली ट्रांसफार्मर भी लगाया जा चुका है। छुटपुट काम गंजपारा में फिल्टर प्लांट में ही बचा हुआ है। जो अगर समय पर पूरा हो जाए तो इसे जल्द से जल्द शुरू किया जा सकता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस