बालोद (नईदुनया न्यूज)। ग्राम दुधली के मिडिल स्कूल का सरकारी फर्नीचर इन दिनों कलकसा के एक प्राइवेट हाटल में सजा हुआ है। सरकारी स्कूल की संपत्ति प्राइवेट होटल में पहुंची कैसी, जब इस बात का पता लगाया तो एक रोचक किस्सा सामने आया। जिम्मेदार प्रधान पाठक का कहना है कि स्कूल में जगह न होने के कारण उक्त फर्नीचर को उन्होंने हाटल मालिक को अपने निजी भवन यानी मकान में सुरक्षित रखने के लिए दिया था, लेकिन यह क्या होटल मालिक ने तो इस सरकारी संपत्ति को अपनी संपत्ति बना ली। फर्नीचर को बाकायदा होटल में ही सजा दिया, जहां लोग नाश्ता करने के लिए बैठते हैं।

जब नईदुनिया संवाददाता की नजर इस पर पड़ी और फर्नीचर में लिखे स्कूल के नाम पर ध्यान गया तो वे चौंक गए। सरकारी स्कूल का 20 टेबल व 21 बेंच प्राइवेट हाटल की शान बढ़ा रहा था। अब जब मामले की पोल खुली तो जिम्मेदार अधिकारी और शिक्षक तक भी गोलमोल जवाब देने लगे हैं। दुधली मिडिल स्कूल के प्रधानपाठक बीसी देशलहरा का कहना है कि स्कूल को कोरोना काल में क्वारंटाइन सेंटर बनाये जाने व जगह न होने के कारण मैंने होटल मालिक देवेंद्र देवांगन को स्कूल में जगह न होने के कारण अस्थाई रूप से उनके निजी मकान में फर्नीचर को रखने के लिए दिया था। मुझे नहीं मालूम था कि वह उसे होटल में उपयोग कर रहा है।

होगी जांच, करेंगे कार्रवाई- बीईओ

वहीं बीईओ आरसी देशलहरा का कहना है कि मुझे जानकारी मिली है कि स्कूल के बेंच-टेबल को स्कूल में जगह नहीं होने के कारण किसी निजी के घर रखवाया गया था, लेकिन उसका होटल में उपयोग किया जा रहा है। सरकारी संपत्ति को किसी निजी के घर रखना गैरकानूनी है। मामले को जांच कर कार्रवाई करेंगे।

वर्जन

मैंने टेबल और बेंच को देवेंद्र देवांगन के घर में रखने लिए दिया था। देवेंद्र देवांगन से लिखवा कर भी लिया हूं कि वह स्कूल का 20 टेबल एवं 21 बेंच ले जा रहा है। टेबल और बेंच होटल में उपयोग हो रहा है, इसके बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस