निधन जगोतीन बाई

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। ग्राम अड़जाल निवासी हरीराम तारम की माता श्रीमती जगोतीन बाई का गुरूवार को आकस्मि निधन हो गया जिनका अंतिम संस्कार स्थानीय मुक्तिधाम में किया गया। वे अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गई। उनके अंतिम यात्रा में परिजन सहित सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणा शामिल हुए। वे हरीराम तारम, गिरवर तारम की माता थी।

----------------------

सफाई महिला मित्रों को मुफ्त में बांटे मास्क

फोटो क्रमांक - 01

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। स्थानीय दल्लीराजहजरा के बीएसपी प्रबंधन के मुखिया मुख्य महाप्रबंधक तपन सूत्रधार के निर्देश पर सत्येंद्र कुमार एवं नगर पालिका के अध्यक्ष, इंटक नेता एवं रतिराम कोसमा के द्वारा प्रातः नगरपालिका के सफाई मित्र महिलाओं को मास्क बांटा गया। कोरोना वायरस से लड़ते हुए इस भयावह समय में भी इन सफाई मित्र महिलाओं ने अपना घर बार छोड़कर शहर की सफाई की चिंता करते हुए जो पूरी इमानदारी और लगन के साथ काम कर रहे हैं। इनका योगदान अत्यंत सराहनीय है। इनके सम्मान में जितना भी किया जाए वह कम होगा। दल्ली राजहरा के लोगों को सुरक्षा देने वाली इन सफाई मित्रों के सुरक्षा का ख्याल रखते हुए बीएसपी प्रबंधन ने आज मास्क का वितरण किया।

------------------

बीएसपी ने बांटे 10 हजार साबुन

फोटो क्रमांक - 02

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। दल्ली राजहरा में कोण्डे पावर हाउस एक नंबर के भगोली पारा ओर से मनोहर ऑफिस के पीछे में साबुन का वितरण किया गया। 10 हजार साबुन बीएसपी के द्वारा वितरण किया जाना है जिसमें कई वार्डों माइनिंग एरिया में वह सभी वार्डों में दिया जा रहा है जिसमें मुख्य महाप्रबंधक बीएसपी सहित नगर के अन्य गणमान्य नागरिक शामिल थे।

--------------------

31 तक नहीं लगेंगे साप्ताहिक बाजार

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। दल्लीराजहरा, डौण्डी, कुसुमकसा सहित क्षेत्र में साप्ताहिक बाजार मे शासन-प्रशासन के आदेश अनुसार धारा 144 लागू होने के कारण 31 मार्च तक कोरोना वायरस के चलते दुकानदारों ने बंद का निर्णय लिया। दुकानदारों ने बताया कि बड़े छोटे गांव में 31 मार्च तक शासन प्रशासन के आदेश के अनुसार दुकानदार सप्ताहिक बाजार बंद करने का निर्णय लिया गया। कोरोना वायरस के कारण 31 मार्च तक प्रशासन के आदेश के अनुसार 144 धारा लागू होने के कारण डौण्डी ब्लॉक बड़े ग्रामों में होने वाले सप्ताहिक बाजार सुबह से सन्नाटा छाया रहा। इसी तरह मंगलवार को भी खलारी बाजार बंद रहा और आगामी 31 मार्च तक क्षेत्र के सभी साप्ताहिक की बाजार पूर्ण रूप से बंद रहेगा।

---------------

फोटो क्रमांक - 03

सड़क पर उतर रहे लोगों लाठी लहराकर सख्ती कर रही पुलिस

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। घर में रहने और घर की दहलीज पार न करने की हिदायत का पालन न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई पुलिस ने डंडे के जोर पर शुरु कर दी। हाथ में लाठी लहराते पुलिसकर्मी मुख्य चौराहों पर मुस्तैद दिखे। चेकिंग पांइट लगाकर यातायात पुलिस ने वाहन चालकों पर कार्यवाही भी किया जा रहा है। सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान एवं कार्यालय बंद रखे गए हैं। दल्लीराजहरा सहित डौण्डी ब्लाक में हाट-बाजार, मेला, मड़ई, सभा, धरना, रैली, जुलूस, धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, राजनैतिक, खेल कार्यक्रम, अवांछित विचरण, सार्वजनिक स्थानों, वैवाहिक कार्यक्रम, क्लब हाउस आदि प्रतिबंधित हैं।

न्यूज पेपर हॉकर व दूध विक्रेता को 3 घंटे की छूट

घरों में जाकर दूध बांटने वाले विक्रेता एवं न्यूज पेपर हॉकर प्रातः 6।30 बजे से प्रातः 9।30 बजे तक लॉकडाउन से मुक्त रहेंगे। दुकानदार और पेट्रोल पंप मालिकों से भी कहा कि वे अपने ग्राहकों को भी दूरी बनाने कहें। बेवजह घर से बाहर न निकलने वालों पर पुलिस द्वारा कार्यवाही की जायेगी। आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं के आवागमन को छोड़कर दल्लीराजहरा सहित डौण्डी ब्लाक की सभी सीमाओं को सील किया गया है।

आवश्यक सेवाएं चालू रहेंगी

बिजली, पानी, सिवरेज, बैंक, एटीएम, बीपीओ, टेलीकम्यूनिकेशन विभाग खुले रहेंगे। फल, सब्जियां, अस्पताल, मेडिकल की दुकानों के साथ पेट्रोल पंप, एलपीजी, सीएनजी खुलें रहेंगे। सार्वजनिक परिवहन सेवा निजी बसें, टैक्सी, ऑटो-रिक्शा, बस, ई-रिक्शा इत्यादि का परिचालन बंद रहेगा।

------------------

फोटो क्रमांक - 04

कोरोना से डर, पर परिवार चलाना मजबूरी

राजहरा बाजार में सब्जी बेचने पहुंची महिलाओं ने सुनाई समस्या

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। कोरोना वायरस से सभी लोगों को डर है पर आवश्यकता की पूर्ति के लिए घर से निकलना उनके लिए मजबूरी भी है। ऐसे ही दल्लीराजहरा बाजार में सब्जी विक्रय करने पहुंची ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं ने अपनी समस्या सुनाते हुए कहा कि कोरोना वायरस की चर्चा गांवों में भी है लेकिन उनके सामने परिवार चलाने की मजबूरी है जिसके कारण वे घर से बाहर निकलने मजबूर है।

रोग फैलने की चर्चा, पर बाजार आना जरूरी : श्याम बाई

श्याम बाई ने बताया कि वह वर्षों से राजहरा बाजार में सब्जी विक्रय करने पहुंचती है। सब्जी विक्रय कर परिवार चलाती है। उन्होंने कहा कि वह कुछ रोग फैलने की चर्चा सुन रही है, लेकिन घर से बाहर निकलना उसके लिए मजबूरी है।

सब्जी विक्रय बंद होने से होगी दि-त : रानू साहू

सब्जी विक्रय करने पहुंची महिला रानू साहू ने कहा कि वायरस फैलने की जानकारी है। वह अपने तरीके से मुंह में टाबेल बांधकर बाजार आई है, क्योंकि बाजार आना जरूरी है। उन्होंने कहा कि यदि सब्जी विक्रय करना बंद कर देगी परिवार को काफी परेशानी होगी।

डर के आगे मजबूर भी : बसंती पटेल

सब्जी विक्रय कर प्रतिदिन लगभग 200 रूपये तक कमा लेती है। शाम को आवश्यकता की सामग्री खरीदकर घर जाती है। यह प्रतिदिन का काम है। सुबह रोज घर से निकलकर राजहरा बाजार पहुंचकर किसानों से सब्जी की खरीदी कर बाजार में विक्रय करती है। कोरोना वायरस का डर है पर उनके आगे मजबूर भी। यह कहना है बसंती पटेल का।

घर में रही तो नहीं चलेगा परिवार : कुलेश्वरी पटेल

कुलेश्वरी पटेल का कहना है उसे वायरस को लेकर जानकारी है, लेकिन यदि वह घर में रहेगी तो उसका परिवार नहीं चल पायेगा। राजहरा बाजार में सब्जियों की बिक्री करने के बाद उससे मिलने वाले पैसे से परिवार की आवश्यकता की पूर्ति करती है।

--------------------

घरबाएं नहीं : राशन, सब्जी, दूध, दवा सब मिलेगा

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। 21 दिन के लॉकडाऊन की घोषणा के बाद लोगों में थोड़ी घबराहट है। एकाएक हुई इस घोषणा के बाद लोग राशन और खाने-पीने की चीजों की जमाखोरी के लिए सुबह से भटकते नजर आए। शहर के लोगों में इस बात की चिंता थी कि जब सब कुछ बंद रहेगा तो जरूरत की चीजें कैसे और कहां से मिलेंगी? जरूरत है कि लोग लॉकडाऊन की इस अवधि में संयम बरतें। राशन, सब्जी, दूध, पेट्रोल, बैंक से लेन-देन, मेडिकल स्टोर, किराना दुकान सहित जरूरी सेवा सुबह 7 से 2 बजे तक चालू रहेगी। जो एडवाइजरी जारी की गई है, उसके मुताबिक खाद्य सामग्री सहित हर उस चीज की आपूर्ति निर्बाध होती रहेगी, जो अत्यावश्यक सेवा के अधीन आती हो। इतना ही नहीं, आपात स्थिति से निपटने सिविल डिफेंस, दमकल, आपदा प्रबंधन को भी एक्शन मोड में काम करने की छूट दी जा रही है। बिजली, पानी और सफाई व्यवस्था पूर्ववत जारी रखने स्थानीय प्रशासन के अफसरों को निर्देशित कर दिया गया है। हास्पिटल के साथ ही प्राइवेट और पब्लिक सेक्टर में मेडिकल से जुड़े मैन्युफैक्चरिंग और डिस्ट्रीब्यूशन समेत सभी विभाग, डिस्पेंसरी, केमिस्ट, मेडिकल इक्यूपमेंट, लैब, क्लीनिक, नर्संिग होम, पीडीएस की दुकानें, मिल्क बूथ, एंबुलेंस की सेवाएं निर्बाध रहेंगी।

न करें उल्लंघन

लॉकडाऊन का उल्लंघन करने वालों से कड़ाई से निपटने के निर्देश सरकार ने जारी कर दिए हैं। आदेश का पालन न करने वालों को पुलिस हवालात की हवा खिला सकती है। सरकार के आदेश का उल्लंघन करने पर जमानती धाराओं के तहत् अपराध पंजीबद्घ होगा। लापरवाही से जीवन के लिए खतरनाक किसी भी बीमारी के संक्रमण को फैलाने की संभावना वाले किसी भी काम को करने पर 6 महीने का कारावास या जुर्माना या दोनों की सजा संभव होगी। जानबूझ कर किसी संगरोध नियम की अवज्ञा करने पर 6 महीने की कैद या जुर्माना या दोनों सजा से दंडित किया जा सकता है।

----------------------

फोटो क्रमांक - 05

दल्लीराजहरा में लाकडाउन का हो रहा सख्ती से पालन

कोरोना वायरस को ले प्रशासन सजग

शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में छाई विरानी

दल्ली राजहरा(नईदुनिया)। कोविड 19 कोरोना वायरस को लेकर प्रशासन द्वारा एतिहातिक कदम उठाए जा रहे हैं नगर तथा क्षेत्र में पूरी तरह लॉक डाउन है। प्रशासन अपनी पूरी ताकत झोंक दिया है कि लोग घरों से ना निकले। आवश्यक वस्तुओं की ही दुकाने खुली हैं और पुलिस प्रशासन सड़कों पर घूम रहे लोगों घर भेजने का काम प्रेम के साथ साथ कड़ाई के साथ भी कर रही है। इसके अलावा एसडीएम ने आवश्यक सामग्री की कमी ना हो को देखते हुए लगातार दिशा निर्देश जारी की है। विश्व में तेजी से फैल रहे लाइलाज कोरोना संक्रमण से बचने एक मात्र विकल्प लॉकडाउन है जिसे प्रभावी रूप में पालन कराने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार रात से 21 दिन तक लोगों के आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस कर्फ्यू का पालन कराने अब प्रशासन सख्ती बरत रही है। एक तरफ जहां जिलों के सीमाओं को सील कर दिया है। वहीं बेवजह घुमने-फिरने वाले लोगो को खदेड़ा जा रहा है जिसके चलते गांव, शहरों में विरानी छाई है। प्रशासन की टीम लगातार भ्रमण कर लोगों को एक जगह जुटने नहीं दे रही है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश के नाम संदेश में ऐलान किया कि कोविड-19 संक्रमण से बचने लॉकडाउन ही एक मात्र उपाय है जिसका पालन अतिअनिवार्य है। इस हेतु अब 31मार्च के बजाय 21 दिन का कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। इस दौरान आवश्यक सेवायें प्रशासनिक अधिकारी-कर्मचारी, पुलिस, स्वास्थ्य, मीडिया, मेडिकल और किराना, मोबाइल इंटरनेट, सब्जी दुकानों को छोड़ कोई भी सेवाएं संचालित नहीं होगी। इन दुकानों के लिए भी समय निर्धारित कर दिया गया है। लोगों को घरों से निकलने पूरी तरह बंद कर दिया गया है। विभिन्न जिलों सहित बुधवार की सुबह से बालोद जिला के सीमाओं को भी पुलिस ने सील कर दिया है जिससे लोग एक जिला से दूसरे जिला नही जा पा रहे है। आवश्यक कार्यो को छोड़ दो पहिया, चार पहिया वाहनों में बेफिजूल घुमने वाले लोगों पर पुलिस सख्ती बरत रही है। नगर सहित गांव के गलियों, चौकों में बैठकर गप्पे हाकने वाले लोगों पर भी कार्यवाही किया जा रहा है। पुलिस प्रशासन द्वारा आवाजाही करने वाले लोगों से पूछताछ की जा रही है और उन्हें वापस घर भेजा जा रहा है। इस तरह से गांव से लेकर शहर तक कर्फ्यू लगने से सन्नाटा पसरा है। एसडीएम ने जानकारी देते हुए बताया कि आवश्यक वस्तु में महत्वपूर्ण गैस सिलेंडर है जिसकी आपूर्ति में कमी ना हो और गैस सिलेंडर के लिए लोग एजेंसियों तक ना पहुंचे इसे देखते हुए घर पहुंच सेवा के लिए सभी एजेंसियों को कहा गया है साथ ही लोगों से आग्रह है कि अपने गैस एजेंसी के कार्यालय में फोन करके अपनी गैस सिलेंडर मंगवा सकते हैं।

----------------

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket