बालोद (नईदुनिया न्यूज)। मुस्लिम समाज द्वारा कुर्बानी का त्योहार ईद-उल-अजहा सादगी के साथ मनाया गया। बुधवार की सुबह लोग आमापारा स्थित ईदगाह कब्रिस्तान में नमाज के लिए पहुंचे। जहां नमाज अदा कर एक-दूसरे को बधाई देते हुए बकरीद का पर्व मनाया। समाज के लोगों ने देश में अमन चैन बहाल करने के साथ-साथ कोरोना महामारी से हिफाजत करने के लिए अल्लाह से दुआएं मांगी। नमाज के बाद लोगों ने परंपरागत रूप से कुर्बानी की रस्म अदा की।

दूर से दी बधाई

ईद की नमाज में यह पहली बार हुआ की ईदगाह में नमाज अदा करने के बाद ना किसी से कोई गला मिला और न ही हाथ मिलाया। बस दूर से ही एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद देते रहे। इस अवसर पर ईदगाह के आसपास पुलिस व्यवस्था चाक-चौबंद रही तथा कोरोना गाइडलाइन के तहत शारीरिक दूरी और फेस मास्क पर कड़ी निगरानी रखी गई। ईदगाह व कब्रिस्तान में प्रशासक कमेटी बालोद द्वारा बेहतर इंतजाम किया गया।

तकरीर के बाद अदा की गई नमाज

ईद उल अजहा के मौके पर हजरत इब्राहिम अलैहिसलाम और हजरत इस्माइल अलैहिस्सलाम की सुन्नत अदा की जाती है। तकरीर के बाद ईद उल अजहा की नमाज अदा की गई ,सलातो सलाम का नजराना पेश किया गया। और एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद देते रहे।

इमाम ने पेश की तकरीर

ईद उल अजहा के खास मौके पर पेश इमाम हाफिज मोहम्मद मुनीर रजा ने नमाज अदा करने से पहले इस मुबारक ईद के बारे में अपनी तकरीर में कहा कि हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम अल्लाह के नबी हैबऔर नबियों को ख्वाब में वही नाजिल होती है। अल्लाह ताला ने हजरत इब्राहिम से ख्वाब में अपना सबसे अजीज कुर्बान करने को कहा। बहरहाल हजरत इब्राहिम का सबसे अजीज उनका बेटा हजरत इस्माइल को अल्लाह की राह में कुर्बान करने के ख्वाब को हकीकत में बदलने के लिए अपने बेटे इस्माइल को मीना के वादियों में ले गए। इस बीच शैतान ने एक नहीं तीन तीन बार उन्हें बरगलाया रोकने की कोशिश की यहां तक की हजरत इस्माइल की मां हजरत हाजरा को भी शैतान ने बरगलाना चाहा परंतु उन पर कोई असर नहीं हुआ। उन्होंने शैतान से कहा अल्लाह की रजा के लिए एक बेटे तो क्या हजार बेटे कुर्बान। हजरत इब्राहिम पर भी शैतान की बातों का कोई असर नहीं हुआ। और मीना की सरजमी में अपने बेटे को जिबह करना चाहा। तभी हजरत इस्माइल अलेह सलाम की जगह दुंबा कुर्बान हो गया और इस्माइल सही सलामत रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags