दल्लीराजहरा। आयुष्मान कार्ड दल्ली राजहरा शहर सहित क्षेत्र में अब तक नहीं पहुंचने की वजह से पात्रता रखने वाले लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना प़ड़ रहा है। जानकार सूत्रों के अनुसार लगभग छह माह पूर्व च्वाइस केंद्रों से आयुष्मान कार्ड बनाया गया था, परंतु कोरोना वायरस की तीसरी लहर आ जाने के बावजूद अब तक आयुष्मान कार्ड प्राप्त नहीं हुआ है। कोरोना की दूसरी लहर के समय से शहर व ग्रामीण अंचलों में च्वाइस सेंटरों व लोक सेवा केंद्रों में निश्शुल्क आयुष्मान कार्ड बनाया गया, लेकिन बनाने के महीनों बाद भी अब तक कार्ड च्वाइस सेंटरों तक नहीं पहुंच पाया है।

ऐसे में जरूरतमंद लोग सेंटरों को महीनों से चक्कर लगा रहे हैं। कई लोग तो नकद 40 से 50 रुपये देकर कुछ च्वाइस सेंटरों से निकलवा रहे हैं। यह कार्ड लोगों को निश्शुल्क मिलना है। वर्ष 2021 से आयुष्मान कार्ड निश्शुल्क बनाने के लिए च्वाइस सेंटरों में शिविर लगा। शिविर व जिला अस्पताल में तत्काल कागजयुक्त पावती दी गई, जो आयुष्मान कार्ड के रूप में काम कर रहा है, लेकिन जिन लोगों ने च्वाइस सेंटरों और लोक सेवा केंद्रों में यह कार्ड बनवाया है, उन्हें अब तक अप्राप्त है।

जून माह तक बनाने वाले लोगों को च्वाइस सेंटरों से कार्ड उपलब्ध हो गया है, लेकिन इसके बाद कार्ड बनाने की औपचारिकता पूरी करने करने वाले करीब 1 से 2 लाख जिलेवासियों को आयुष्मान कार्ड च्वाइस सेंटरों से मिलने का इंतजार है।यह कार्ड अब तक च्वाइस सेंटरों में बनकर नहीं पहुंचा है, जबकि लोग आयुष्मान कार्ड मांगने च्वाइस सेंटरों में आए दिन चक्कर लगा रहे हैं। समय पर कार्ड नहीं मिलने से जरूरतमंद लोगों में नाराजगी है।

जून से नहीं आया बनकर

कुछ च्वाइस सेंटरों के संचालकों का कहना है कि जून के बाद से अब तक कोई आयुष्मान कार्ड नहीं आया है, लोग आए दिन कार्ड की जानकारी लेने पहुंचते हैं। वहीं पहले से बनकर आए आयुष्मान कार्ड को ले जाने भी अधिकांश लोग नहीं आए हैं, जो सेंटरों में ही पड़ा हुआ है उल्लेखनीय है कि आयुष्मान निश्शुल्क बनाने की तिथि समाप्त होने के बाद छूटे हुए गिनती के लोग ही अब बनवा रहे हैं लोगों ने कार्ड नहीं बनवाने पंजीयन ही नहीं किया था आयुष्मान कार्ड नहीं मिलने की वजह से स्वास्थ्य के क्षेत्र के लिए काफी घातक साबित हो रहा है और आमजन परेशान हो रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local