बालोद। ग्राम जगतरा में भारतीय खाद्य निगम द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया गया। यहां पर भारतीय खाद्य निगम ने अपने द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी मुख्य अतिथि सहित आम जनता को दी की कैसे कोरोना वायरस के संक्रमण काल में भी फील्ड में उतर कर कार्य करते रहे, तब जाकर लोगों तक खाद्यान्न पहुंचा। केंद्र सरकार की उचित नीतियों के कारण कुपोषण से लडाई लडने भी वे प्रयासरत हैं और इसी के तहत कई सारी योजनाएं फूड कारपोरेशन आफ इंडिया के तहत संचालित है।

इस आयोजन में बतौर मुख्य अतिथि संजारी बालोद विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रीतम साहू, क्षेत्र के पूर्व विधायक वीरेंद्र साहू शामिल हुए। मुख्य अतिथियों ने कहा कि आजादी की लड़ाई किसान आंदोलन था। कृषि आंदोलन से ही आजादी की राह खुली। चंपारण, बारडोली सत्याग्रह ये सब इसके उदाहरण है। प्रीतम साहू ने कहा कि एक समय था जब लोगों के घर काम करने जाते थे, तब अनाज मिलता था पर आज केंद्र सरकार राज्य सरकार के प्रयासों आज विभिन्न प्रकार के चावल मिल रहे हैं। फोर्टीफाइड चांवल मिलने लगा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री लोग कैसे इस समस्या से निकले इस चिंता में थे और उन्होंने बेहतरीन कदम उठाए। और भारतीय खाद्य निगम भी इसके लिए प्रतिबद्घ था।

वीरेंद्र साहू ने कहा कि यहां पर केंद्र सरकार द्वारा एफसीआइ के मध्यम से पूरे देश में खाद्यान्न की बेहतरीन व्यवस्था बनाने में जुटे हुए हैं। पहले लोग भूख से मर जाते थे, लेकिन जब से चावल वितरण की शुरुआत हुई तब से आत्मनिर्भरता आती गई, तब इसका फायदा छत्तीसगढ की जनता को मिला। वैश्विक महामारी से हम सब पीड़ित थे। लोग एक दूसरे से बात करना पसंद नहीं करते थे तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी को घरों पर ही रहने की अपील की थी।

मंडल प्रबंधक बफपाल बीर सिंह ने कहा कि एक समय था जब लोग घर से बाहर निकलने से डरते थे तब भारतीय खाद्य निगम के कर्मवीरों ने फील्ड में उतरकर कार्य किए और देश के विभिन्न हिस्सों में 946 मिट्रिक टन खाद्यान्न भेजा गया। ऐसा समय भी आया जब एक ही दिन में 102 रैक लगाए गए। इसके साथ ही एफसीआई के अधिकारियों ने कहा कि हर चौथा बच्चा कुपोषण का शिकार होता है, इसे देखते हुए हर व्यक्ति तक पोषण पहुंचाना सरकार की जिम्मेदारी है। इस दौरान मंडल प्रबंधक के साथ, खाद्य अधिकारी एच एल बंजारे सहित फूड कारपोरेशन के अधिकारी, जनपद अध्यक्ष प्रेमलता साहू सहित हमाल बंधु व आम जनता मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local