बालोद (नईदुनिया न्यूज)। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शहरी क्षेत्रों के जरूरतमंद लोगों को उनके घर के समीप स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ सुनिश्चित कराने के लिए प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना अंतर्गत मोबाइल मेडिकल यूनिट शहरी जरूरतमंदों के लिए वरदान साबित हो रहा है। यह योजना खासकर मेहनत, मजदूरी कर जीवन-यापन कोरने वाले तथा निम्न व मध्यम वर्ग के कामकाजी लोगों को उनके मोहल्ले में ही स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ सुनिश्चित कराने के लिए अत्यंत लाभप्रद सिद्घ हो रहा है।

इस योजना के कारण शहरी क्षेत्रों के लोगों को आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिलने के साथ-साथ समय एवं पैसे की भी बचत हो रही है। मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से उनके घर के पास ही समुचित स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिलने से जिला मुख्यालय बालोद के कुंदरूपारा वार्ड क्रमांक 17 की बुजुर्ग महिला राजीम बाई एवं चितरेखा ने इस योजना की मुक्तकंठ से सराहना की है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले के आठ नगरीय निकाय बालोद, गुरूर, दल्लीराजहरा, चिखलाकसा, डौंडी, अर्जुंदा, गुंडरदेही, डौंडीलोहारा में कुल तीन मोबाइल मेडिकल यूनिट संचालित है। इस योजना से जिले के अब तक 12 हजार 306 लोग लाभान्वित हुए हैं। इस योजना की सराहना करते हुए 68 वर्षीय बुजुर्ग महिला श्रीमती राजीम बाई ने कहा कि वह लम्बे समय से कमर व हाथ-पैर दर्द तथा कमजोरी की समस्या से ग्रसित थी। राज्य सरकार के द्वारा मोबाइल मेडिकल यूनिट प्रारंभ करने के पूर्व उसे उपचार के लिए अपने घर से दूर जिला चिकित्सालय एवं किसी विशेषज्ञ चिकित्सक के पास जाना पड़ता था। लेकिन घरेलू कार्यों की अधिकता एवं समय पर पैसों की व्यवस्था नहीं होने के कारण वे समय पर अपना उपचार नहीं करा पाती थी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाले छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा मोबाइल मेडिकल यूनिट की सुविधा प्रारंभ करने से आज उसे अपने कुंदरूपारा मोहल्ले में ही समुचित उपचार की सुविधा मिल रही है। अब वह अपने घरेलू कामकाजों का निपटारा कर सुबह आठ बजे से लेकर दोपहर तीन बजे तक किसी भी समय मोहल्ले के मोबाइल मेडिकल यूनिट में जाकर निश्शुुल्क स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ ले रही हैं।

इस योजना की सराहना कुंदरूपारा बालोद निवासी श्रीमती चितरेखा ढीमर ने भी की है। उन्होंने कहा कि वे पिछले कुछ समय से शारीरिक कमजोरी की समस्या से ग्रसित थी। कुंदरूपारा में उनके घर के पास मोबाइल मेडिकल यूनिट के आगमन की सूचना मिलने पर वे अपने स्वास्थ्य जाच एवं उपचार के लिए वहां पर गई।

वहां पर उपस्थित चिकित्सक एवं स्वास्थ्यकर्मी द्वारा उनके स्वास्थ्य जांच के उपरांत उनके शारीरिक कमजोरी को दूर करने हेतु मल्टीविटामिन सिरप, कैल्शियम एवं आयरन की गोली आदि दवाइयां निश्शुल्क दी गई। आज वे पूरी तरह स्वस्थ होकर मेहनत-मजदूरी के अलावा अपने पारिवारिक जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही हैं। इन दोनों महिलाओं ने छत्तीसगढ़ सरकार की इस योजना की सराहना करते हुए अपने जैसे अनेक जरूरतमंद लोगों के लिए संजीवनी बताया है। इसी तरह कुंदरूपारा निवासी कचरी बाई, संजू खरे आदि महिलाओं ने भी इस संवेदनशील एवं जनहितैषी योजना की सराहना कर मुख्यमंत्री के नेतृत्व वाले सरकार को धन्यवाद ज्ञापित किया है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close