बालोद। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शनिवार को 10वीं और 12वीं के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। दोपहर 12 बजे स्कूल शिक्षा मंत्री डा. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने परीक्षा परिणाम जारी किए। इस वर्ष 12वीं में बालोद जिले के ग्राम झलमला के रितेश कुमार साहू ने 95.60 अंको के साथ टाप 10 में जगह बनाते हुए चौथे स्थान प्राप्त किया है। प्रावीण्य सूची जारी होते ही जिले में जश्न का माहौल छा गया। झलमला स्थित रितेश के घर में बधाई देने वाले लोग लगातार पहुंचते रहे। वहीं, लखनऊ में एनडीए की कोचिंग कर रहे रितेश को बधाई देने पूरा हास्टल उमड़ पड़ा।

दसवीं की परीक्षा में बालोद जिले के 67.75% विद्यार्थी पास हुए, जिनमें लड़कियों का प्रतिशत 76.90 और लड़कों का प्रतिशत 57.86 रहा। 12वीं की परीक्षा में 73.96% स्टूडेंट पास हुए। इसमें लड़कियों का प्रतिशत 76.94 और लड़कों का प्रतिशत 70.11 रहा। 10वीं की परीक्षा में कुल 756 स्टूडेंट्स सप्लीमेंट्री आए हैं। वहीं एक परीक्षार्थी ऐसा हैं, जिनका परिणाम निरस्त किया गया हैं। 12वीं की परीक्षा में कुल 1,626 स्टूडेंट्स सप्लीमेंट्री आए हैं। तीन परीक्षार्थी ऐसे हैं, जिनका परिणाम निरस्त किया गया हैं। इस साल 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में जिले के 22,671 से ज्यादा छात्र उपस्थित हुए थे।

अब्दुल कलाम है आदर्श, देश के लिए कुछ करने का है जज्बा

नईदुनिया से फोन पर चर्चा करते हुए रितेश साहू ने बताया कि वे देश की सुरक्षा के लिए कुछ करना चाहते है। 12वीं के परीक्षा के बाद से ही बीते एक बाद से लखनऊ में एनडीए की कोचिंग कर रहा हैं। उनका सपना नेवी में अफसर बनने का है। रितेश अब्दुल कलाम को अपना आदर्श मानते है। रितेश बताते है कि प्रदेश में चौथा स्थान में आने की खबर जैसे ही उन्हें मिली तो लखनऊ में भी कोचिंग के सभी दोस्त, टीचर एवं हॉस्टल की वार्डन ने भी मिठाई खिलाकर शुभकामना दी।

झलमला के रितेश ने टाप 10 में बनाई जगहः बालोद जिले के झलमला गांव निवासी रितेश कुमार साहू ने 12वीं में अपने जिले में टाप किया है। 478 अंक लाकर पूरे छत्तीसगढ़ में चौथा स्थान हासिल किया। वे झलमला के ही शासकीय स्कूल में पढ़ते हैं। रितेश के पिताजी प्यारे लाल साहू भी झलमला के हायर सेकेंडरी स्कूल में टीचर हैं। अपने बेटे के टाप करने पर वे बेहद खुश हैं। रितेश लखनऊ में एनडीए की कोचिंग करने गए हैं। रितेश दो भाई हैं। जिसमें रितेश बड़ा है। छोटा भाई खेमलाल साहू, मां चंद्रकला साहू गृहणी हैं। परिणाम के बाद से ही रितेश के घर पर बधाई देने वालो का तांता लगा रहा।

कलेक्टर ने दी बधाई, दिया हरसंभव मदद का भरोसा

रितेश की इस उपलब्धि पर जिले के कलेक्टर जनमेजय महोबे ने भी फोन पर बात कर बधाई दी साथ ही भविष्य में हर सम्भव मदद करने की बात भी कही है। वही जिला शिक्षा अधिकारी प्रवास बघेल ने भी जिले के लिए इसे बड़ी उपलब्धि बताया हैं।

शिक्षा विभाग की लापरवाही, टाप करने वाला रितेश खिसका चौथे नंबर पर

परिणाम के साथ ही शिक्षा विभाग ने दोनों ही काक्षाओं में टाप करने वाले छात्रों की मेरिट लिस्ट जारी की। 10वीं बोर्ड परीक्षा में रायगढ़ की सुमन पटेल और कांकेर की सोनाली बाला ने 98.67 प्रतिशत के साथ टाप किया है। लेकिन 12वीं बोर्ड परीक्षा में जारी मेरिट लिस्ट को कुछ ही समय में विभाग ने बदल कर नई लिस्ट जारी कर दी। पहले जारी लिस्ट में बालोद ग्राम झलमला के रितेश कुमार साहू 95.60 प्रतिशत के साथ प्रदेश में अव्वल था। लेकिन कुछ ही देर बाद शिक्षा विभाग ने नई लिस्ट जारी की, जिसमें टाप करने वाले रितेश चौथे स्थान पर खिसक गए। वहीं रायगढ़ की कुंती साव 98.20 प्रतिशत के साथ पहले नंबर पर आ गई।

यूजर्स ने जताई नाराजगी

टापर की लिस्ट में इतनी बड़ी गलती और लापरवाही के लिए कौन-कौन दोषी है, ये तो जांच के बाद ही पता चल सकेगा। टापर लिस्ट में लापरवाही इंटरनेट मीडिया पर ट्रोल हो रहा है। यूजर्स लापरवाही के लिए विभाग को जिम्मेदार ठहरा रहा है। सीएम भूपेश बघेल के परीक्षा में उतीर्ण विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों के बधाई वाले ट्वीट पर बालोद निवासी दीपक लोढा ने लापरवाही पर शिक्षा विभाग की खिंचाई की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local