बालोद। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक शाखा निपानी में घोटाले के बाद विभाग द्वारा राशि लौटाए जाने की प्रक्रिया दो सप्ताह पूर्व से प्रारंभ हो गई है। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग और खाताधारकों के बीच हुए समझौते के अनुसार प्रत्येक सप्ताह 60 खाताधारकों के खाते में गबन की राशि लौटाई जानी हैं। इसके लिए विभाग पूरी तरह जुट गया है। एक सप्ताह में जैसे ही साठ लोगों के खाते में पैसे जाता है। उसके तुरंत बाद टीम अगले 60 की तैयारी में जुट जाती है।

इस कार्य को करने के लिए 20 अफसरों व कर्मचारियों की टीम लगातार लगी हुई है। लगभग चार माह पूर्व जिला सहकारी केंद्रीय बैंक निपानी में खाता धारकों के खातों से राशि गबन करने का मामला सामने आया था। इसके बाद राशि वापसी को लेकर किसानों व जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के बीच कई दौर की बातचीत हुई। इसके बाद अंत में तय किया गया कि प्रति सप्ताह 60 किसानों के खाते में राशि डाली जाएगी। वही लगभग दो माह पूर्व जांच के लिए डेढ़ माह का समय मांगा गया था। इस अवधि में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग द्वारा बेहद तेजी के साथ काम कराया गया, क्योंकि जांच शुरू होने के 45 दिन बाद प्रति सप्ताह 60 खाताधारकों के खाते में गबन की राशि वापसी की प्रक्रिया शुरू करनी थी।

इसलिए जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की सीईओ अपेक्षा व्यास ने टीम में संख्या बढ़ाते हुए 10 की जगह 20 अफसरों को तैनात कर दी। वर्तमान में किसानों के खाते में गबन की राशि वापस करने की प्रक्रिया चालू हो गई है। दो सप्ताह किसानों के खाते में राशि डाली जा चुकी है। खास बात यह है कि अब जैसे ही 60 लोगों के खाते में राशि जाती है, फिर से 60 लोगों का प्रकरण तैयार करने में टीम जुट जाती है। इसके लिए टीम दिन रात मेहनत कर रही है।

कई प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद खाते में जाता है पैसा

राशि लौटाने के लिए प्रक्रिया कई दौर से गुजरती है। जांच टीम द्वारा आवेदनों से जुड़े हुए लेन-देन की पूरी जांच करने के बाद सूची बनाई जाती है। इसके बाद इस सूची को सीए द्वारा परीक्षण कराया जाता है। इसके बाद बैंक के विधि सलाहकार से राय ली जाती है और अंत में बैंक के संचालक मंडल की बैठक ली जाती है। जिसने प्रस्ताव पास कर उक्त राशि को वापस किए जाने स्वीकृति प्रदान की जाती है। इस तरह 3 से 4 दिन तक अवधि में पूरी प्रक्रिया अपनाई जाती है। और इसके बाद सप्ताह के अंत में किसानों के खाते में राशि डाल दी जाती है।

15 दिन में 136 किसानों के खाते में लौटाई जा चुकी है राशि

निर्धारित तिथि के बाद से जिला सहकारी केंद्रीय बैंक द्वारा किसानों के खाते में गबन की राशि वापस करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई। इसके तहत अब तक पखवाड़े भर में 136 किसानों के खाते में कुल 2,19,73,443 लौटाई जा चुकी हैं। इसमें सबसे पहले 70 किसानों के खाते में 1,48,20,625 रुपये डाले गए। वहीं, बीते सप्ताह 60 किसानों के खाते में 71,52,817 रुपये डाले गए।

570 आवेदनों की होनी है जांच

ज्ञात हो कि जिला सहकारी केन्द्रीय निपानी में राशि गड़बड़ी की आशंका को लेकर 570 किसानों ने आवेदन दिया हुआ है। उन्हें आशंका है कि उनके खाते से राशि के गबन की गई। इसी के तहत विभाग द्वारा 570 आवेदनों को जांच में लिया गया है। अभी तक कितने आवेदन की जांच की गई है इस बारे में स्पष्ट नहीं हो पाया है। लेकिन जांच लगातार और युद्घ स्तर पर की जा रही है। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के नोडल अधिकारी आर के रामटेके ने बताया कि सभी किसानों के आवेदनों की जांच भी चल रही है और किसानों के गबन की राशि की वापसी साथ साथ जारी है।

जांच की प्रक्रिया भी चल रही है वही प्रति सप्ताह 60 खाताधारकों के बैंक अकाउंट में गबन की राशि वापस करने की प्रक्रिया भी चल रही है। अभी कितना गबन हुआ होगा यह बता पाना संभव नहीं है।कार्य में तेजी लाने टीम में अधिकारियों-कर्मचारियों की संख्या बढ़ा दी गई हैं।

- अपेक्षा व्यास, सीईओ, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक दुर्ग

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close