गुरुर। पुरुर पुलिस ने चेकिंग के दौरान गांजा तस्करी करते उत्तर प्रदेश के तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 20 किलो 500 ग्राम गांजा बरामद हुआ है। इसके साथ ही एक कार भी जब्त की गई है।पुलिस के मुताबिक ग्राम जगतरा के पास शुक्रवार को पुलिस वाहनों की जांच कर रही थी। उसी समय चारामा की ओर से आ रही एक मारुति स्वीफ्ट डिजायर सफेद रंग की कार में चालक के साथ अन्य दो व्यक्ति सवार थे।

पूछे जाने पर अजीत सिंह यादव निवासी ग्राम पढ़ानपुर, मनीष कुमार मौर्य निवासी ग्राम पठानपुर व रोहित राजभर निवासी ग्राम गौरीबडाह थाना जैतपुर जिला आंबेडकर नगर (उप्र) बताया। पुलिस ने वाहन चालक से वाहन संबंधी दस्तावेज प्रस्तुत करने व वाहन की चेकिंग कराने कहने पर घबराने लगा। पूछताछ करने पर गोलमोल जवाब देने लगा। पुलिस ने जब वाहन की तलाशी ली तो पीछे सीट में टेप से लिपटा हुआ पैकेट मिला जिसे सीट पर छुपा कर ले जाया जा रहा था। पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर गांजा कव घटना में प्रयुक्त कार जप्त कर कब्जा किया गया।

पत्नी की हत्या करने वाले पति को आजीवन कारावास की सजा

पत्नी की हत्या मामले में सजा सुनाते हुए अपर सत्र न्यायाधीश ने विजय कुमार निषाद निवासी गहिरा नवागांव को आजीवन कारावास व 500 रूपये के अर्थदंड, व तीन वर्ष सश्रम कारावास एवं 500 रूपये के अर्थदंड से दडिंत किया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 26 अगस्त 2020 में पति ने अपनी पत्नी के चरित्र पर शंका करते हुए उसकी हत्या कर लाश कुएं में फेंकी थी। देवरी को सूचना प्राप्त हुई थीं कि ग्राम गहिरा नवागांव के पुराना प्राथमिक शाला गोठान के पास कुआ में एक महिला बिसाखा बाई उर्फ मधु ठाकुर का शव मिला है। पुलिस ने मर्ग कायम कर लाश का पंचनामा कर जांच में जुट गई। पति विजय कुमार निषाद के द्वारा मृतका की हत्या कर हत्या व साक्ष्य छिपाने का आठ सितंबर 2020 को अपराध पंजीबद्घ कर विवेचना में लिया गया था। पुलिस ने आरोपित को चार नवंबर 2020 को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जिसके बाद कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। -नप्र

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close