दल्लीराजहरा (नईदुनिया न्यूज)। दल्लीराजहरा शहर में हाईवा सड़क के दोनों ओर खड़े किए जाने से जाम की स्थिति बन रही है। दूसरी ओर लगातार दुर्घटनाएं भी हो रही हैं। माइंस आफिस चौक से जानू पेट्रोल पंप चौक तक सड़क के दोनों ओर दर्जनों वाहन खड़े रहने से दुर्घटनाएं होने की संभावना बनी हुई है।

इससे आए दिन वाद-विवाद की स्थिति बनी रहती है। बीएसपी के अधिकारियों ने स्थानीय पुलिस प्रशासन के अलावा राजस्व प्रशासन से गुहार लगाई परंतु अब तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है। दल्लीराजहरा में बाजारों के विस्तार के बाद रौनक पहले से भले ही दोगुनी हो गई है, लेकिन जब बात पार्किंग की आती है तो लोगों के पसीने छूट जाते हैं।

वाहनों को पार्क करने के लिए लोग यहां-वहां जगह तलाशते नजर आते हैं। हालांकि नो पार्किंग का बोर्ड तो हर जगह आसानी से नजर आ जाता है, लेकिन वाहनों की पार्किंग कहां करें, यह किसी को नहीं मालूम। सड़क का अधिकतर हिस्सा वाहनों से ही पटा पड़ा रहता है। सड़क किनारे गाड़ी खड़ी करने से जाम लग जाता है। दल्लीराजहरा शहर के मुख्य सड़कों के अलावा गली-मोहल्लों में भी वाहनों की पार्किंग के चलते अच्छे पड़ोसी भी लड़ने-मरने को तैयार हो जाते हैं। बदलते दौर के साथ लोगों की लाइफस्टाइल में बदलाव आया है। इसका सबसे बड़ा प्रमाण यह है कि जहां पहले किसी खास व्यक्ति के पास ही गाड़ी होती थी, वहीं अब हर परिवार में एक या दो गाड़ी जरूर नजर आती है। लोगों के पास बढ़ रही गाड़ियों की संख्या भले ही हमारे शहर की अच्छी अर्थव्यवस्था को दर्शाता हो, लेकिन इन गाड़ियों को पार्क करना बड़ी समस्या है।

कुम्हार पसरा, गुप्ता चौक, जैन भवन चौक, स्थित बाजारों में रोजाना काफी लोग खरीदारी करने के लिए आते हैं, लेकिन पार्किंग के लिए रत्तीभर भी जगह नहीं है। गुप्ता चौक में सड़क के दोनों ओर वाहनों की पार्किंग रहती है। ऐसे में कई बार ग्राहकों को दुकान में दाखिल होने के लिए मशक्कत करनी पड़ती है। कुम्हार पसरा व गुप्ता चौक के बाजार में भी नजारा कुछ इसी तरह है। सड़क पर वाहनों का जमावड़ा व फुटपाथ पर अतिक्रमणकारियों का कब्जा है। ऐसे में खरीदारी करने के लिए लोगों को चलने में भी काफी दि-त होती है, वहीं अन्य जगहों की बात करें तो वहां पार्किंग के लिए उचित स्थान न होने के कारण दुकानों के बाहर ग्राहक वाहनों को खड़ा कर चले जाते हैं। अभी भी पार्कगि की सुविधा शुरू नही हो पाई है, लेकिन वाहनों की बढ़ती संख्या केवल पार्किंग में सिमट जाए, ऐसा संभव नहीं है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local