राजपुर(नईदुनिया न्यूज)। बलरामपुर जिले के राजपुर विकासखंड के ग्राम गोपालपुर में फंसे उत्तरप्रदेश के 28 लोगों को स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मदद से गुरुवार को उनके गृह ग्राम के लिए रवाना कर दिया गया। बकायदा कार्यपालिक मजिस्ट्रेट से उनकी आवाजाही के लिए अनुमति दी गई और वाहन की व्यवस्था सुनिश्चित कर सभी को घर भेज दिया गया। जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से मिले सहयोग के प्रति लोगों ने आभार जताया।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के कुछ लोग परिवार के सदस्यों के साथ राजपुर विकासखंड के गोपालपुर साप्ताहिक बाजार में अपना डेरा जमाए थे। परिवार के वयस्क पुरुष सदस्य घूम-घूमकर आसपास के गांवों में कृषि औजारों को धार करने के अलावा घरेलू उपयोग की सामग्रियों का सुधार का कार्य किया करते थे। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और रोकथाम के लिए लॉकडाउन की घोषणा के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में भी लोग जागरूक हो गए हैं और बाहरी लोगों के संपर्क में आने से बच रहे हैं। उत्तरप्रदेश के सोनभद्र से आए लोगों को काम भी नहीं मिल पा रहा था और सुरक्षा की दृष्टि से भी उनका गोपालपुर में रहना उचित नहीं माना जा रहा था। वाहनों की व्यवस्था नहीं होने से वे वापस भी नहीं लौट पा रहे थे। इन लोगों की मंशा अपने अपने गांव वापस लौट जाने की थी। गोपालपुर निवासी भाजपा मंडल अध्यक्ष अनिल दुबे ने लोगों को वापस उनके घरों तक भिजवाने के लिए पहल की किराए में वाहन की उपलब्धता सुनिश्चित करें। एसडीएम आरएस लाल और तहसीलदार सुरेश राय से संपर्क किया गया। दोनों अधिकारियों ने भी गोपालपुर में फंसे सोनभद्र जिले के लोगों को वापस भेजने सहमति दे दी और बकायदा कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की ओर से लिखित में आदेश जारी हुआ, उसी आदेश के साथ लोगों को वापस भेज दिया गया। पूरी प्रक्रिया करने के बाद सभी को वापस भेजा गया था कि रास्ते में किसी प्रकार की दिक्कत न हो। उत्तरप्रदेश की सीमा को भी सील कर दिया गया है, लेकिन अधिकारी का आदेश होने के कारण इन लोगों को वापस जाने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आएगी। धनवार बैरियर पर ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को भी सोनभद्र जिले के लोगों को जाने देने की सूचना दे दी गई है। रवानगी के दौरान भाजपा मंडल अध्यक्ष अनिल कुमार दुबे, सरपंच गोहनदुल राम, सचिव पवन राम, रोजगार सहायक अर्जुन सिंह, मंसूर आलम, प्रशांत रय, रामनाथ राम, पूरन राम, मंगल सिंह, रामसूरत सिंह उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket