रामानुजगंज नगर से छह किलोमीटर दूर वाड्रफनगर रोड पर स्थित कनकपुर निवासी कक्षा नौवीं की छात्रा के मांग में नौ माह पूर्व सोने के दौरान कथित रूप से नाग द्वारा सिंदूर भरे जाने के बाद ग्रामीण इसे नाग देवता का आशीर्वाद मान मंदिर बनाने की तैयारी में हैं। ग्रामीणों द्वारा उक्त छात्रा का विवाह सावन में नाग के साथ किया जाएगा। इस घटना के बाद छात्रा से झाड़फूंक कराने ग्रामीण उसके घर पहुंचते हैं।

अक्टूबर 2018 में कनकपुर निवासी छात्रा दुर्गावती पिता विनोद राम की मांग पर कथित रूप से सिंदूर भरा मिला। छात्रा की मां बेबिया देवी ने इसकी जानकारी परिवार के अन्य सदस्यों को दी। जानकारी मिलने पर लोग छात्रा के घर पहुंचे। दावा किया जा रहा है कि सिंदूर को मिटाने की कोशिश की गई, लेकिन वह मिट नहीं सका।

छात्रा ने दावा किया कि सपने में नाग ने आकर उससे शादी करने कहा एवं मांग पर सिंदूर भर दिया। लोग लड़की को नाग की पत्नी मानते हुए उसकी पूजा-अर्चना भी करने लगे। परिजनों ने इसे अंधविश्वास बता छात्रा को समझाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानीं। छात्रा का विवाह ग्रामीण सावन में नाग से कराने की तैयारी में हैं। छात्रा ने कहा है कि इसके बाद वह शादी नहीं मिल करेगी।

सावन में होगी शादी और मंदिर निर्माण

लड़की दुर्गावती के पिता विनोद राम, बुधन राम, हीराचंद राम, सुरेश राम, रमेश राम, दिनेश राम, लल्लूराम, राकेश राम, शिव कुमार, सुभाष राम, हरिशंकर यादव, कैलाश यादव सहित दर्जनों ग्रामीणों ने कहा कि छात्रा मांग में सिंदूर भर जाने की घटना के बाद गांव में शिव चर्चा कराई जा रही है। सावन माह में छात्रा नाग से शादी करेगी और यहां नाग-नागिन मंदिर का निर्माण कराया जाएगा। इस मंदिर में ही छात्रा रहेगी। इससे परिजन चिंतित हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network