राजपुर (नईदुनिया न्यूज)। सरगुजा संभाग के किसानों ने किसान क्रेडिट कार्ड के तहत लिए लोन को 31 मार्च तक नहीं पटाने पर 17 प्रतिशत ब्याज पर कोरोना की वजह से किए गए लॉकडाउन के कारण एक महीने तक राहत देने की मांग की है। बलरामपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ने भी किसानों के इस मांग को जरूरी बताते हुए समर्थन किया है।

सरगुजा संभाग के सूरजपुर, बलरामपुर और सरगुजा जिले में ऐसे करीब 10 हजार से अधिक किसान हैं जिन्हें 31 मार्च तक कर्ज पटाना है लेकिन नहीं पटा सके हैं और ऐसे कर्ज से लदे किसानों की संख्या ज्यादा इसलिए भी है क्योंकि धान खरीदी का रकबा कम कर दिया गया। इससे वे पूरा धान नहीं बेच सके और कर्ज बाकी रह गया। इसके अलावा जनवरी-फरवरी माह में ओलावृष्टि और फिर मार्च के अंतिम दस दिनों तक कोरोना के लॉक डाउन से किसान हलाकान हो गए हैं। लॉक डाउन से अनाज के थोक व्यापारियों के दुकान और ट्रांसपोर्ट बंद हो गया हैं। किसानों ने ऐसे में मांग की है कि कर्ज ब्याजमुक्त पटाने के लिए अप्रैल या जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाता है तब तक राहत दिया जाए। बता दें पूरे प्रशासन तंत्र के कोरोना से निपटने में लगने के कारण ओलावृष्टि से हुए नुकसान पर मुआवजा प्रकरण के भुगतान में भी विलंब हो रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket