राजपुर(नईदुनिया न्यूज)। कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ने कहा है कि कांग्रेस ऐसी पार्टी है, जो भाजपा की तरह जुमलेबाजी नहीं करती। किसानों को उपज का सही दाम दिलाने के लिए स्वर्गीय राजीव गांधी की पुण्यतिथि के दिन पूरे प्रदेश भर में किसान न्याय योजना प्रारंभ की गई थी जिसके जरिए 19 लाख किसानों को 57 सौ करोड़ रुपये की राशि चार किस्तों में सीधे उनके खातों में हस्तांतरित की जानी है सभी किसानों को पहली किश्त की राशि हस्तांतरित कर दी गई है यह योजना प्रदेश के रबी व खरीफ फसल उत्पादक किसानों को सीधा लाभ पहुंचाने की योजना है, रबी फसलों में इसमें गन्ने की फसल शामिल है। सरगुजा संभाग में 13800 कृषकों को इसका सीधा लाभ पहुंचा है। छत्तीसगढ़ की सरकार किसानों के साथ न्याय करते हुए 1500 करोड़ की राशि किसानों के खाते में दे चुकी है, जो किसान या योजना के पहले किस्त के रूप में है।

वरिष्ठ कांग्रेसी जितेंद्र गुप्ता ने कहा की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार अच्छा काम कर रही है। किसानों के न केवल कर्ज माफ किए गए बल्कि सिंचाई कर सहित 11 हजार करोड़ रुपये के कर्ज माफ कर दिए गए धान के समर्थन मूल्य की बजाए अपने वादे के अनुसार धान की कीमत 2500 रुपये भी दिया। सबसे बड़ी और सार्थक पहल किसानों के हित में यह रही कि अब किसानों के खाते में किसान न्याय योजना के तहत सीधा हस्तांतरण हो रहा है पूर्व में राशि अफरा-तफरी की जाती थी और बिचौलिए उसका लाभ उठाते थे जिस पर स्थाई विराम लग गया है।

जिला प्रवक्ता सुनील सिंह ने कहा कि डा. रमन सिंह के राज में किसानों को छलने के अलावा और कोई काम नहीं हुआ किसानों के प्रति उन्होंने जो घोषणाएं की थी उसे भी उन्होंने पूरा नहीं किया 220रुपये का बोनस उनके शासनकाल में दो किस्तों में मिलता था और अब कांग्रेस की सरकार किस्तों में अगर प्रोत्साहन राशि दे रही है तो उसके विरोध का हक रमन सिंह को कैसे मिल गया या फिर उनकी पार्टी के लोगों को बेवजह हल्ला करने का किसने हक दे दिया। केंद्र सरकार प्रधानमंत्री कृषक सम्मान योजना में पांच एकड़ तक के किसानों के लिए मात्र एक वर्ष में 6000 का प्रावधान रखी है जो तीन किश्तों में मिलता है, जबकि छत्तीसगढ़ राज्य की कांग्रेस सरकार न्याय योजना में पांच एकड़ तक के किसानों को 50 हजार रुपये दे रही है, वह भी महज चार किश्तों में तो डा. रमन सिंह और उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को यह बताना चाहिए कि बेहतर क्या है और विरोध किसका करना है। किसान न्याय योजना में भारतीय जनता पार्टी के तमाम नेता गण ने राशि प्राप्त की है यदि वे न्याय योजना से नफरत करते हैं या उसका लाभ नहीं लेना चाहते हैं तो इस राशि को तत्काल मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कर दें ताकि यह राशि कोरोना से लड़ने के काम आ सके और वह भी गर्व से बता सकें कि छत्तीसगढ़ के लिए उन्होंने किसान न्याय योजना की राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है। किसान न्याय योजना अभिनव योजना है जो प्रदेश की सरकार ने किसानों के बेहतरी के लिए लागू किया है आने वाले समय में छत्तीसगढ़ के तरक्की की राह में यह मील का पत्थर साबित होगी। पत्रकार वार्ता के दौरान पार्षद खोरेन खलखो, पूरन चंद जायसवाल, एल्डरमैन राजीव गुप्ता, राजपुर ब्लाक किसान कांग्रेस के अध्यक्ष राम बिहारी यादव, सामरी विधानसभा युवक कांग्रेस अध्यक्ष नीरज तिवारी भी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना