बलरामपुर(नईदुनिया न्यूज)। अंबिकापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर ग्राम तातापानी गर्म जलस्रोत स्थल पहुंच मार्ग के समीप स्थित देवधर नाला पर पुलिया का रेलिंग टूट जाने से हर पल दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। समय रहते राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों को तत्काल इस ओर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर क्रमांक 343 में रामानुजगंज से लेकर राजपुर तक अनगिनत गड्ढे तो हो ही गए हैं। वहीं ग्राम पंचायत तातापानी में गर्म जल स्रोत स्थल मुड़ने वाले स्थान के नजदीक पुलिया का रेलिंग टूट जाने से कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घट सकती है, क्योंकि एक ओर जहां पुलिया की चौड़ाई काफी कम है, वही पुलिया में गड्ढे हैं। जो दुर्घटना को हर पर आमंत्रित करते हैं। जब कभी इस पुलिया से बड़ी गाड़ी होकर गुजरती है वहीं उसी समय जब कोई दोपहिया या चारपहिया वाहन अगल-बगल से जाता है तो ऐसे में दुर्घटनाओं की संभावना और अधिक हो जाती है। राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों को तत्काल इस पर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। पुलिया की चौड़ाई कम होने से एवं पुलिया में गड्ढे होने से पहले कई बार हादसे हो चुके हैं। एक युवक की जान भी जा चुकी है। यदि अब भी राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी सजग नहीं हुए तो हादसा हो सकता है। जिला प्रशासन के द्वारा तातापानी गर्म जलस्रोत को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने के बाद यह बलरामपुर जिले के प्रमुख पर्यटन स्थलों में स्थापित तो हो ही चुका है। छत्तीसगढ़ के साथ-साथ विभिन्न प्रदेशों के लोग प्रतिदिन यहां आते हैं, ऐसे में पुलिया के रेलिंग का टूट जाना एवं पुलिया में गड्ढे होना हादसों को आमंत्रित कर रहा है।

खतरनाक हो चुकी है पुलिया-

तातापानी मेला समिति के अध्यक्ष अजय गुप्ता ने कहा कि देवधर नाला पर बने पुलिया का रेलिंग टूट जाने से एवं पुलिया में गड्ढे हो जाने के कारण आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। यह पुलिया बहुत ही खतरनाक साबित हो रहा है। तत्काल प्रशासन को इस ओर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close