बस्तर। बस्तर लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दीपक बैज जीत गए हैं। भारतीय जनता पार्टी के बैदूराम कश्यप को कड़ी टक्कर देते हुए कांग्रेस ने बस्तर सीट अपने कब्जे में कर ली है। बता दें कि, आदिवासी वर्ग के लिए सुरक्षित बस्तर संसदीय क्षेत्र की जनता जितनी शांत और सौम्य मानी जाती है, निर्णय लेने में उतनी ही कठोर है।

बस्तर संसदीय क्षेत्र का चुनावी इतिहास इस बात का गवाह है कि जिसे सांसद बनाया, उसे लगातार बनाया और जब एक बार नजरें फेरी तो फिर दोबारा उसे कभी सांसद नहीं बनाया। इसका परिणाम यह रहा कि सांसद का चुनाव हारकर नेताओं को या तो विधानसभा का रुख करना पड़ा या फिर राजनीति से ही तौबा करने के लिए मजबूर होना पड़ा।

बस्तर के गांधी माने जाने वाले कांग्रेस के मानकूराम सोढ़ी इसके सबसे बड़े उदाहरण हैं। पांच बार के विधायक और तीन बार के सांसद सोढ़ी को 1996 में सांसद का चुनाव हारने के बाद चुनावी राजनीति छोड़नी पड़ी। वर्ष 1998-99 से वर्ष 2011 में निधन होने तक सबसे अधिक लगातार चार बार सांसद बनने का श्रेय भाजपा के नेता स्वर्गीय बलीराम कश्यप को जाता है।

उनके बाद तीन बार सांसद बनने का श्रेय कांग्रेस के स्वर्गीय मानकूराम सोढ़ी को जाता है। सोढ़ी वर्ष 1984 से 1996 तक लगातार सांसद रहे। दो बार सांसद बनने का श्रेय बलीराम कश्यप के पुत्र वर्तमान सांसद दिनेश कश्यप को है। दिनेश वर्ष 2011 में पहली बार उपचुनाव लड़कर सांसद बने और दोबारा 2014 में जीते।

कांग्रेस के एक अन्य बड़े नेता रहे स्वर्गीय महेन्द्र कर्मा वर्ष 1996 में निर्दलीय सांसद बने। वर्ष 1998 के चुनाव में उन्हें कांकेर सीट से चुनाव लड़ाया गया लेकिन वे वहां हार गए। इसके बाद उन्होंने विधानसभा की राजनीति की, दोबारा सांसद का चुनाव लड़ने का मन नहीं बनाया।

छत्तीसगढ़ के आदिवासी आरक्षित सीटों में शामिल बस्तर संसदीय सीट पर महिलाएं ही पुरुषों का भाग्य तय करती हैं। इस सीट पर पुस्र्षों की तुलना में महिला वोटरों की संख्या अधिक है। हालांकि राज्य की 11 संसदीय सीटों में कुल वोटरों की संख्या के लिहाज से बस्तर में सबसे कम वोटर हैं। इस बार के चुनाव में यहां कुल 13 लाख 72 हजार से अधिक वोटर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इनमें 7 लाख 12 हजार महिला और 6 लाख 59 हजार पुरुष थे।

बस्तर सीट पर वोटरों की संख्या

वर्ष कुल मतदाता महिला पुस्र्ष

2004 1039442 531921 507521

2009 1193116 609710 583406

2014 1298083 665241 632842

2019 1372127 712259 659824

यह भी पढ़ें...

Raipur Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी सुनील सोनी फिर आगे

Bilaspur Lok Sabha Result 2019 : शुरुआती रूझान में बिलासपुर सीट पर कांग्रेस आगे

Kanker Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी मोहन मंडावी 81235 मतों से चल रहे हैं आगे

Raigarh Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी गोमती साय ने 1100 मतों से बनाई बढ़त, कांग्रेस को छोड़ा पीछे

Posted By: Sandeep Chourey