बेमेतरा। शनिवार को हुई जिले में प्रदेश के सबसे लूट में पुलिस ने चार आरोपितों को तो गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन कुल एक करोड़ 64 लाख रुपये में अभी 56 लाख रुपये बरामद करने में सफल नहीं हो पाया है। वहीं पुलिस ने जरूर घटना के दिन 82 लाख मौके पर बरामद किया और घटना के दूसरे दिन रविवार को 28 लाख रुपये छह राउंड गोली सहित 12 बोर बंदूक बरामद किया है।

अब चार दिन के बाद बाकी यानि 56 लाख रुपये का अता-पता नहीं चल पाया है। वहीं बेमेतरा एसपी प्रशांत ठाकुर ने नईदुनिया से चर्चा करते हुए कहा कि मंगलवार को दशहरा होने के कारण पुलिस जरूर खोजबीन नहीं कर सकी। पुलिस जवान दशहरा उत्सव में लगे थे। उन्होंने कहा कि आज बुधवार को पुलिस घटना स्थल से लेकर बाघुल के खेतों में खोजबीन करेंगी। इसके अलावा वहां के ग्रामीणों से पूछताछ भी करेंगी।

शनिवार को प्रदेश के सबसे लूट में हरियाणा के चार आरोपितों ने एक कैश वाहन दिनदहाड़े एक करोड़ 64 लाख रुपये लूट लिया। बताया जाता है कि बेमेतरा शहर से कैश वाहन नवागढ़ के एसबीआइ एटीएम में पैसे डालने जा रहे थे।

इसी दौरान रास्ते में कैश वाहन पंचर हो गया। इसके बाद वाहन के कर्मचारी और गार्ड टायर खोलने लगे। इसी दौरान हरियाणा के आरोपित होण्डा सिटी कार में पहुंचे। सबसे पहले गार्ड के 12 बोर बंदूक को लूट लिया। इसके बाद आरोपितों ने गाड़ी के अंदर रखें पैसे को लूट कर फरार गया है।


20 से अधिक ग्रामीणों खिलाफ मामला दर्ज, 15 पुलिसकर्मी घायल हुए

कवर्धा के पंडरिया थाना क्षेत्र के ग्राम पाढ़ी में हुए बच्चा चोर अफवाह मामले में पुलिस ने ग्रामीणों के खिलाफ कार्रवाई किया है। थाना से जानकारी अनुसार गांव के करीब 20 से अधिक ग्रामीणों के खिलाफ पंडरिया थाना में एफआइआर दर्ज की गई है। इस घटना में पुलिस विभाग के कर्मचारियों को भी चोंटे आई है। पंडरिया थाना समेत बाहर से आई फोर्स के करीब 15 से अधिक जवानों को चोट लगा गया है।

इन घायलों को अस्पताल में इलाज जारी है। इसके बाद भी कुछ जवान घायल अवस्था में ही ड़यूटी पर लौट आए है। पुलिस ने ग्राम पाढ़ी के 20 से अधिक महिला व पुरूष के खिलाफ धारा धारा 506 (बी), 148, 353, 147, 332, 186, 342, 294, 149 के तहत प्रकरण बनाया है।

गौरतलब है कि जिला प्रशासन व पुलिस के लिए बच्चा चोर की अफवाह मुसीबत बन बैठी है। रविवार को इसी अफवाह के चलते पुलिस और ग्रामीणों के बीच विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि पुलिस और ग्रामीण घायल हो गया। पुलिस को गांव में अतिरिक्त फोर्स बुलाना पड़ा। विक्षिप्त ने गांव के एक बच्चे को बिस्किट दे रहा था।