बेमेतरा। कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान ने मंगलवार 24 मई को आम जनता से साप्ताहिक भेंट मुलाकात के कार्यक्रम जनचौपाल के दौरान आम नागरिकों की समस्याएं सुनी और उनके निराकरण के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। संयुक्त जिला कार्यालय मे आयोजित साप्ताहिक जनचौपाल के दौरान बेमेतरा जिले के विभिन्न गांवों से पहुंचे आम नागरिकों ने विभिन्न विभागों से संबंधित 29 आवेदन प्रस्तुत किए।

जनचौपाल में प्राप्त आवेदनों में निराश्रित पेंशन दिलाने, प्रधानमंत्री आवास दिलाने, सामाजिक सुरक्षा पेंशन दिलाए जाने, पारिश्रमिक भुगतान राशि प्रदाय करने, आंगनबड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति कराने, विधवा पेंशन प्रदान कराने, ग्राम पंचायत जंगलपुर के पंचायत सचिव को हटाने, अतिक्रमण हटाए जाने, ग्राम पंचायत खुड़मुड़ा में जल जीवन मिशन अंतर्गत पानी टंकी निर्माण व पाइप लाइन बिछाने के संबंध में, ग्राम पंचायत सिंघौरी के आश्रित ग्राम सिरसा में स्वच्छ भारत मिशन अंतर्गत शौचालय दिलाने, ओलावृष्टि से हुई क्षतिपूर्ति की बीमा राशि दिलाए जाने आदि से संबंधित आवेदन प्रस्तुत किए।

कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि समय सीमा पर लोगों की समस्याओं का निराकरण करें, जिन समस्याओं का निराकरण प्रशासन स्तर से संभव है, उन्हें प्रशासनिक स्तर पर तथा जिन समस्याओं के निराकरण में राज्य शासन द्वारा मार्गदर्शन की जरूरत है वहां पर राज्य शासन से मार्गदर्शन लेकर समस्याएं हल कराएं। कलेक्टर ने कहा कि जिन मामलों में आवेदनों का निराकरण नियमानुसार संभव नहीं है, उस पर आवेदक को सूचना दी जाए। इस अवसर पर अपर कलेक्टर डा. अनिल बाजपेयी, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व दुर्गेश कुमार वर्मा, नवागढ़ प्रवीण तिवारी, साजा धनराज मरकाम, नगर पालिका अधिकारी होरी सिंह ठाकुर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

समस्याओं का होता है निराकरण

उल्लेखनीय है कि प्रत्येक मंगलवार को बेमेतरा कलेक्ट्रेट कार्यालय में जनचौपाल का आयोजन होता है, जिसमें लोगों की समस्याओं को सुनी जाती है। साथ ही त्वरित ही उसका निराकरण भी किया जाता है। हालांकि कोरोना काल में जनचौपाल कार्यक्रम को बंद कर दिया था, लेकिन अब कोरोना कम होने के बाद एक बार फिर से जनचौपाल को शुरू कर दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close