बेमेतरा। नईदुनिया न्यूज

जिला मुख्यालय में गुरुवार को प्रदेश के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने समीक्षा बैठक ली। हालांकि उनकी पहली समीक्षा बैठक थी। बैठक में मंत्री का तीखे तेवर स्पष्ट रूप से नजर आया। उन्होंने अधिकारी-कर्मचारियों को कहा कि प्रदेश में सरकार बदल चुकी है। अधिकारी-कर्मचारी जनता के हितों को ध्यान में रखकर काम करें। शासन के हितग्राही मूलक कार्यों का लाभ आम लोगों को समुचित रूप से मिल सके। इस बात का पूरा प्रयास करें और मामले में किसी तरह की लापरवाही या उदासीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

इस दौरान बैठक में काम में लापरवाही के चलते आरइएस एसडीओ गंभीर और सहकारिता विभाग के उप पंजीयक एसके तिग्गा और कार्यपालन अभियंता आशालता गुप्ता को बैठक में उपस्थित रहने के कारण शो-कॉज नोटिस जारी करने निर्देश दिए। इसके अलावा आनंदगाव, मुहरेंगा में पदस्थ दो शिक्षक आशुतोष पांडे और वीरेंद्र कुमार टंडन को भी निलंबित किया। विदित हो कि आनंद गांव के शिक्षक वीरेंद्र टंडन के ऊपर दो दिन पहले स्कूल में ताला बंदी को लेकर और मुहरेंगा में पदस्थ शिक्षक आशुतोष पांडे के ऊपर राजनीतिक गतिविधि में शामिल होने के साथ लगातार स्कूल में अनुपस्थित रहने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गई थी। वहीं सहकारिता विभाग के उप पंजीयत एसके तिग्गा की शिकायत मिली थी। जिस पर यह कार्यवाही की गई है।