बेमेतरा (नईदुनिया न्यूज)। जिले में किसान सहित ग्रामीणों को ठगने का एक नया तरीका सामने आया है। जिसमें निवेशकों को न्यूनतम राशि‍ 2,250 रुपये जमा करने पर सालभर में दो लाख 17 हजार की राशि‍ देने का वादा पर्लवाइन इंटरनेशनल बैंक (आनलाइन एप) के माध्यम से किया जा रहा है।

आश्चर्य यह है कि राशि‍ जमा करने के बाद रसीद नहीं दी जाती है। बल्कि राशि नगद लेकर निवेशकों को एप में जोड़कर सदस्यता दी जा रही है । वहीं इस तरह की घटना सामने आने पर राजस्व विभाग और पुलिस विभाग की संयुक्त कार्यवाही से अब तक इस मसले पर पुलिस एप से जुड़े हुए लोगों व बनाए गए पंपलेट में फोटो और मोबाइल नंबर के आधार पर जानकारी पता की जा रही है।

पंपलेट में बकायदा पीएम की फोटो छपी

फर्जी तरीके से लोगों को लुटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की फोटो के साथ पंपलेट भी तैयार किया गया है। पंपलेट में डिजिटल क्रांति योजना के तहत सबके साथ सब विकास के लोगों भी दर्ज है। साथ ही 2250 रुपए के निवेश पर रुपये 2,17000 की वापसी से किस्तों में देने का भरोसा दिया जा रहा है । वहीं इस तरह के लोक लुभावने वायदे पर लोग झांसे में आ रहे हैं । हालांकि मामले में पुलिस छह लोगों से पूछताछ कर रही है। साथ ही मामले के तह तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है । वहीं स्थानीय स्तर पर इसे संचालन करने वाले विष्णु निषाद जो कि ग्राम उघरा का रहने वाला है । दीपक जोकि ग्राम ढोलिया का रहने वाला है इनसे तथा इनके अपलाइन के लोगों से पूछताछ की जा रही है।

राजस्व अधिकारियों ने दिखाई तत्परता

पफर्जी निवेश की जानकारी होने पर राजस्व अधिकारियों ने दिखाई तत्परता दिखाते हुए स्वयं ग्राहक बनकर एजेंट से संपर्क किया। जिसके बाद योजना की विस्तृत जानकारी मिली। राजस्व अधिकारी में अपर कलेक्टर बाजपाई एसडीएम युगल उर्वाषा सहित तहसीलदार और पटवारियों ने अहम भूमिका निभाते हुए पूरी जानकारी एकत्रित की तत्पश्चात मामले को और एजेंट को पुलिस के सुपुर्द कर दिया।


400 करोड़ से अधिक की राशि‍ का झांसा

जिले में 95 हजार से भी ज्यादा निवेशकों के द्वारा रुपये लगभग 400 करोड़ से भी ऊपर की राशि इसी तरह झांसे में आकर लगाया गया है । जो कि अब तक निवेशकों को वापस हो नहीं पाया। प्रशासन जहां निवेशकों के पैसे वापस करने में तरह-तरह के कवायद करने में लगी हुई ।


बेरोजगार युवा बन रहे मोहरा

आकर्षक योजनाओं और बेरोजगार युवा इस तरह के एप के अधिक मोहरा बन रहे है। घटनाक्रम में एकबारगी से नजर दौडाई जाए तो निश्चित रूप से सुनियोजित साजिश के तहत अंचल के युवा और बेरोजगारों को ही निशाना बनाते हैं। उन्हें लोक लुभावने वायदे और बेहतर रिफंड के साथ-साथ एक निश्चित आमदनी की बात कह कर पहले सदस्य बनाते हैं । इस क्रम को आगे बढ़ाने केलिए एक तरह से प्रेरित करते हैं । परिणाम स्वरूप लोगों को पैसा निवेश करने के लिए संबंधों का हवाला देकर मजबूर करते हैं।

पर्लवाइन इंटरनेशनल बैंक के नाम पर खाता खुलवाने का आश्वासन देने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस के द्वारा जांच की जा रही है। मामले की तह तक जाने का प्रयास किया जा रहा है। मामले के खुलासे होने पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज होगा।

-अंबर भारद्वाज, प्रभारी कोतवाली बेमेतरा

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close