बेमेतरा। किसानों को धान के बदले अन्य फसल लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान ने आज जिला पंचायत सभाकक्ष में कृषि, सहकारिता व राजस्व विभाग के मैदानी अमले की बैठक ली। कलेक्टर ने कहा कि बेमेतरा जिले का लक्ष्य 19 हजार हेक्टेयर का है। ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी, पटवारी व समिति प्रबंधक आपसी समन्वय से कार्य करते हुए कृषकों को प्रात्साहित कर कृषि लोन दिलाने के लिए कार्यवाही करें।

कलेक्टर ने कहा कि बीते खरीफ सीजन के दौरान समिति प्रबंधकों ने बहुत अच्छा कार्य किया है इसके लिए उन्होंने समिति प्रबंधकों को बधाई दी। बैठक में जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित के 19 शाखा मे से केवल 8 शाखा के शाखा प्रबंधक ही उपस्थित थे। कलेक्टर ने जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के नोडल अधिकारी को शेष 11 शाखा प्रबंधकों के एक-एक दिन का वेतन कटौती करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर विलास भोसकर संदीपान ने बताया कि कृषि व सहकारिता विभाग द्वारा बेमेतरा जिले में शिविर लगाकर किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। कृषि उत्पादन आयुक्त (एपीसी) द्वारा भी पत्र जारी कर धान के बदले अन्य फसल लेने के लिए जोर दिया गया है। कृषि, सहकारिता विभाग का मैदानी अमला किसानों को प्रोत्साहित कर गैर धान फसलों को लेने की सलाह दें। जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की शाखा स्तर पर भी बैठक आयोजित कर किसानों को आमंत्रित किया जाये ताकि अधिक से अधिक किसान धान के बदले अन्य फसल की ओर प्रोत्साहित हो। सेवा सहकारी समिति स्तर पर लोन स्वीकृति की कार्यवाही की जाए।

इस दौरान बैठक में जिला पंचायत सीईओ लीना मंडावी, डिप्टी कलेक्टर विश्वास राव मस्के, अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) साजा धनराज मरकाम, नवागढ़ प्रवीण तिवारी, उप संचालक कृषि महादेव मानकर, जिला सहाकारी केंद्रीय बैंक के नोडल अधिकारी राजकुमार वारे, तहसीलदार व नायब तहसीलदार, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी व समिति प्रबंधक सहित कई अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close