बेमेतरा। Cout news दादी के साथ घर के आंगन में सोती हुई 12 साल की किशोरी को उठाकर ले जाने तथा उनके साथ दुष्कर्म कर बीच रास्ते में छोड़ देने के मामले में दोषी ट्रक ड्रायवर सूरज प्रजापति पिता रामनाथ प्रजापति (33) निवासी ग्राम बघवार थाना भंडारिया जिला गढवा (झारखंड) को बेमेतरा न्यायालय ने मरते दम तक कठोर कारावास की सजा सुनाई है।

घटना दो-तीन जून 2020 की दरम्यिानी रात की है। राष्ट्रीय राजमार्ग 30 में स्थित थाना बेमेतरा क्षेत्र की किशोरी अपने घर के आंगन में दादी के साथ सोई थी। रात दो बजे दादी को पता चला कि उनकी नातिन पलंग पर नहीं है। इसके बाद दूसरे दिन थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

इस बीच सूचना मिली कि ग्राम मटका मंे एक किशोरी घायल व लहुलुहान अवस्था में है। जिसके बाद पुलिस वहां पहुंची और बालिका को इलाज के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। साथ ही अज्ञात आरोपित के खिलाफ धारा 363, 366, 376, 376 (ए,बी) 3, (2) (फ) एसटी-एससी एक्ट 5 (ड) 6,12 पोक्सो एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

जिले में हुई इस घटना से पूरा जिला हिल गया था। आरोपित को पकड़ने के लिए पुलिस की एक 40 सदस्यीय टीम भी गठित की गई थी। वहीं, इस मामले को लेकर डीजीपी डीएम अवस्थी भी लगातार मानिटरिंग कर रहे थे। 17 दिनों तक पुलिस सीसीटीवी फुटेज से लेकर मोबाइल काल डेटा-जीपीएस डेटा एनालिसिस करती रही और आखिरकार पता चला कि घटना में संलिप्त आरोपित उर्जा लाजिस्टीक रायपुर का ट्रक का चालक है। क्योंकि, उस ट्रक में जीपीएस लगा हुआ था तथा वह ट्रक घटना दिनांक घटना स्थल पर रुका हुआ था।

Posted By: Ravindra Thengdi

NaiDunia Local
NaiDunia Local