बेमेतरा(नईदुनिया न्यूज) लगातार बढ़ रहे संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है तथा बेमेतरा जिला में जो अब तक दोपहर दो बजे तक लाकडाउन की घोषणा की गई थी उसे बढ़ोतरी करते हुए 10 अप्रैल दिन शनिवार की शाम छह बजे से लेकर 19 अप्रैल सोमवार की सुबह छह बजे तक कंप्लीट लाकडाउन की घोषणा कर दी गई है।

कलेक्टर द्वारा दिए गए इस आदेश में किराने की दुकान सब्जी बाजार भी पूरी तरह बंद रहेंगे। हालांकि अनिवार्य सेवा केतहत मेडिकल स्टोर्स खुले रहेंग,े दूध की सप्लाई के लिए एक समय निर्धारित की गई है जो कि सुबह आठ बजे तथा शाम को सात बजे तक दूध की सप्लाई जारी रहेगी। अनिवार्य सेवा में अखबार से जुड़े हुए लोग सुबह छह बजे से लेकर आठ बजे तक अखबार की सप्लाई कर सकेंगे। इस दौरान पेट्रोल पंप में भी

केवल शासकीय वाहनों, शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहन, एटीएम कैश वैन, अस्पताल, मेडिकल इमरजेंसी से संबंधित निजी वाहन, एंबुलेंस, एलपीजी परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहन, विधिमान्य ई-पास धारित करने वाले वाहन, एडमिट कार्ड, काल लेटर दिखाने पर परीक्षार्थी व उनके अभिभावक, परिचय पत्र दिखाने पर मीडियाकर्मी, प्रेस वाहन, न्यूज पेपर हाकर, दुग्ध वाहन तथा छत्तीसगढ़ में नहीं रूकते हुये एक राज्य से सीधे अन्य राज्य जाने वाले वाहनों को पीओएल दिया जाएगा।

कलेक्टर द्वारा जारी किए गए आदेश में अन्य प्रदेशों से आने वाले वाहनों पर प्रतिबंध नहीं होगा पर स्थानीय स्तर पर किसी तरह के माल वाहकों को भी परमिशन नहीं दिया जाएगा। बरहाल जिला प्रशासन द्वारा की जारी किए गए आदेश ने इस बात का स्पष्ट उल्लेख भी किया गया है कि अनावश्यक रूप से घरों से निकलने वाले लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है। साथ ही साथ लोगों को इस बात की चेतावनी भी दी गई है कि वह अनावश्यक रूप से घरों से ना निकले, क्योंकि जिस रफ्तार से संक्रमण ने तेजी पकड़ी है उसकेलिए चैन को तोड़ने के लिए सख्ती और सावधानी दोनों ही आवश्यक है।

बैंक भी रहेंगे बंद, नवरात्रि में मंदिर केदरवाजे भी श्रद्घालुओं के लिए नहीं खुल पाएगा

जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए आदेश में संपूर्ण लाकडाउन की अवधि में बैंक भी बंद रहेंगे। साथ ही साथ चैत्र नवरात्रि में मनोकामना ज्योति भी प्रज्वलित नहीं किए जाएंगे, किंतु मंदिर समिति की ओर से एक सामूहिक ज्योति अवश्य ही जलाई जाएगी। मुख्य रूप से स्थानीय श्रीमाता भद्रकाली संस्थान तथा ग्राम संडी स्थित श्री सिद्घि माता के मंदिर में एकमात्र सामूहिक ज्योति प्रज्वलित किए जाएंगे तथा आगामी चैत्र नवरात्रि में हिंदुओं के नए वर्ष में भी इसी तरह के आयोजन की अनुमति नहीं होगी।

पांच कोरोना संक्रमितों की मौत

कोरोना की बढ़ती हुई रफ्तार लोगों के लिए एक अनसुलझी पहेली सी लगने लगी है। जिले में गुरुवार को कोरोना से पांच लोगों की मौत की खबर है। वहीं जिला चिकित्सालय में टेस्टिंग के लिए भी लोगों की भीड़ काफी बढ़ रही है किंतु बढ़ती भीड़ को नियंत्रित कर पाने में एक तरह से स्वास्थ्य अमला असहाय नजर आने लगा है, जिसके चलते कई लोग टेस्टिंग कराने जिला चिकित्सालय तो पहुंचते हैं, किंतु अव्यवस्था के चलते वे बगैर टेस्ट कराए ही वापस लौट रहे हैं। कुछ इस तरह के हालात जिला चिकित्सालय में देखने को मिल रहे हैं। लोग परेशान हो रहे हैं और टेस्टिंग के लिए भटक भी रहे हैं।

360 नए मरीज मिले

जिले में गुरुवार को कुल 360 मरीज संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमण की रफ्तार और जिले में एक्टिव केसेस की बढ़ती संख्या निश्चित रूप से आने वाले दिनों में एक बड़ी परेशानी का कारण हो सकती है। इससे भी बड़ी परेशानी की बात यह रही कि आज कुल 5 लोगों की मृत्यु कोरोनावायरस के चलते हुई हैं, जिसके चलते अब लोगों में दहशत का माहौल है। हालांकि प्रशासन के द्वारा तमाम प्रयास किया जा रहा है जैसे तैसे संक्रमण की रफ्तार को रोका जा सके उसकी चैन को तोड़ा जा सके

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags