बेमेतरा (नईदुनिया न्यूज)। छत्तीसगढ़ प्रदेश शासकीय, अर्धशासकीय वाहन चालक एवं यांत्रिकी कर्मचारी संघ की रविवार को वर्चुअल मीटिंग हुई। इसमें विभिन्न मांगों पर चर्चा की गई। संघ के प्रांताध्यक्ष एसएन महापात्र के निर्देश पर कार्यकारिणी प्रांताधक्ष महेश कुमार साहू, महासचिव महेंद्र सिंह पावले, ताराचंद साहू, सत्य प्रकाश बाघ, आसन सिंह साडिल्य एवं महामंत्री रमेश राजवाड़े की अगुवाई में बैठक हुई। इसमें कहा गया कि छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों को 14 प्रतिशत कम महंगाई मिल रहा है। सातवें वेतनमान के बकाया एरियर्स पर चर्चा की गई। संघ ने फैसला लिया कि मांगों को शासन के सामने रखा जाएगा।

संघ की मांग है कि तृतीय श्रेणी शासकीय वाहन चालकों को तकनीशियन-कम चालक का पद स्वीकृत करते हुए 1900 ग्रेड पे के स्थान पर 2800 ग्रेड पे किया जाए। शैक्षणिक योग्यता के अनुसार विभागीय परीक्षा में सम्मिलित होने की अनुमति दी जाए व पद परिवर्तन का लाभ दिया जाए। दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को नियमित किया जाए। आठ घंटे से अधिक सेवा करने पर विशेष भत्ता, पुरानी पेंशन योजना लागू करने, निजी एवं टैक्सी वाहन का संचालन न कराने, बैठक व्यवस्था करने, चार स्तरीय वेतनमान, बीमा करने, वाहन की सफाई भत्ता, कोविड-19 में ड्यूटीरत वाहन चालकों का 50 लाख का बीमा, रायपुर एवं जिला में संघ के लिए कार्यालय या प्लाट आवंटन की मांग उठाई। बताया गया कि इन मांगों को लेकर प्रत्येक जिले में रैली निकालकर ज्ञापन सौंपा जाएगा। बैठक में रंजीत सिंह, रोशन अली, जीपी भदौरिया, उमेश कुमार श्रीवास, जितेंद्र कुमार यदु, मायाराम नेताम, देवेंद्र डढसेना, अखिलेश ठाकुर, हेमसिंह चौहान, अर्जुन यादव तथा अन्य उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local