बेमेतरा (नईदुनिया न्यूज)। विद्युत कंपनी द्वारा विद्युत व्यवस्था सुदृढ़ करने की दिशा में एक नया आयाम जोड़ते हुए सीएसपीडीसीएल दुर्ग क्षेत्र के विभागीय साजा संभाग में लगभग एक करोड़ रुपये की लागत से 132 केवी उपकेंद्र सांकरा (बेरला) से एक नई 33 केवी लाइन तारालीम फीडर को ऊर्जीकृत किया गया है। उक्त फीडर की लंबाई 16 किलोमीटर है। 132 केवी उपकेंद्र सांकरा (बेरला) से निकलने वाली नई 33 केवी फीडर को मुख्य अभिंयता एम जामुलकर की उपस्थिति में 19 मई को ऊर्जीकृत कर लिया गया है।

मुख्य अभियंता जामुलकर ने बताया कि पूर्व में 33 केवी बेरला फीडर से चार 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्र सोंढ़, तारालिम, सरदा एवं बारगांव ऊर्जीकृत थे। एक फीडर के साथ चार उपकेंद्रों की सप्लाई होने के कारण ओवरलोड, लो वोल्टेज एवं ट्रिपिंग जैसी समस्याएं आती रहती थी। उन्होंने बताया कि बारगांव एवं सरदा उपकेंद्र के लिए पृथक तारालिम फीडर बना दिया गया है। अब चारों उपकेंद्रों को दो फीडरों में बांट देने से क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था बेहतर हो गई है। उपभोक्ताओं एवं किसानों को निर्बाध रुप से उधा गुणवत्ता की विद्युत आपूर्ति प्रदान की जा सकेगी।

विभागीय संभाग साजा के कार्यपालन अभियंता डी.के.रात्रे ने बताया कि नई 33 केवी तारालीम फीडर के दोनों उपकेंद्रों बारगांव एवं सरदा के अंतर्गत आने वाले ग्रामों सरदा, लावातरा, लेंजवारा, भिलौरी, बावनलाख, आंदु, अतरगढ़ि, देवरी, जामगांव, बारगांव, पाहन्दा, कोसपातर, मटिया, बलौदी, जमघट, अछोटी, चेटुआ आदि ग्रामों के लगभग 20 हजार ग्रामीण एवं किसानों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति का लाभ मिलेगा। इस कार्य को लक्षित समय पर पूर्ण करने के लिए अधीक्षण अभियंता एके गौराहा ने कार्यपालन यंत्री डीके रात्रे, कार्यपालन यंत्री परियोजना संभाग पीके शर्मा, कार्यपालन यंत्री 132 केवी उपकेंद्र एसके चौहान, सहायक यंत्री सिद्घार्थ भवसार, केके डहरे, आरएस महिलांगे एवं उनकी टीम को बधाई दी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close