बेमेतरा। राज्य शासन के द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का शुभारंभ एक दिसंबर को किया जावेगा। इसके पुख्ता तैयारी समितियों में की जा चुकी है धान को स्टैक में रखने के लिए भूसा का बोरी सहित खरीदी केंद्र में बनाए गए चबूतरे में धान को सुरक्षित रखने की व्यवस्था की जा रही है।

विदित हो कि जिले में इस वर्ष 102 समितियों में कुल 120 खरीदी केंद्रों से धान की खरीदी सुनिश्चित किया गया है जिसकी तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। समितियों में खरीदी के अनुपात में बारदाना का आवंटन भी किया जा चुका है। जिसमें धान की खरीदी की जावेगी हालांकि आज कुछ जगहों पर कंप्यूटर ऑपरेटरों के हड़ताल के चलते टोकन का वितरण नहीं किया जा सका जहां पर वितरण आज नहीं हो पाया है। 30 नवंबर को वहां पर वितरण कर दिया जावेगा और किसानों को टोकन के माध्यम से यह बताया जाएगा कि उन्हें धान बेचने के लिए समिति में कब आना है...

विदित हो कि जिले में इस वर्ष 60 हजार कुंटल से भी ज्यादा धान की खरीदी की जानी है जो कि अब तक की खरीदी का रिकार्ड भी कहा जा सकता है हालांकि राज्य शासन के द्वारा धान के समर्थन मूल्य और राजीव गांधी न्याय योजना के तहत दी जाने वाली राशि मिलाकर 2500 प्रति क्विंटल की दर से किसानों को भुगतान किया जा रहा है जिसके चलते जिले में जहां लगातार धान के रकबे में बढ़ोतरी हो रही है उसके चलते जिले में निर्धारित लक्ष्य से भी ज्यादा खरीदी हो सकती है जिसके चलते एक चरण से पूरा प्रशासनिक अमला को यह खरीदी की जिम्मेदारी जिला प्रशासन के द्वारा दी गई है।

एक तरफ धान की खरीदी तो दूसरी तरफ समितियों का चुनाव जिस तरह से राज्य शासन के द्वारा एक दिसंबर से धान की खरीदी शुरू की जानी है जिसकी तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। वहीं दूसरी तरफ समिति नव गठित समितियों का चुनाव भी 4 दिसंबर 6 दिसंबर को नियत किया गया है। जिसके चलते उम्मीदवारों के द्वारा अपने-अपने पक्ष में प्रचार प्रसार का काम तेजी से चल रहा है। बाहर हाल इन तमाम हालातों के चलते समितियों में इन दिनों किसानों और उम्मीदवारों तथा उनके समर्थक कुछ इस तरह के भीड़ लगाए हुए हैं कि मानो खरीदी आज से ही शुरु हो गई है।

नोडल अधिकारी ने की किसानों से अपील

ठीक धान खरीदी से पहले जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के नोडल अधिकारी राजेंद्र वारे ने किसानों से यह अपील भी की है कि वे शासन की मंशा के अनुरूप धान बेचने के लिए 25 फीसद बारदाना वे उपलब्ध कराएं ताकि व्यवस्थित तरीके से खरीदी सुनिश्चित किया जा सके समिति में किसानों को किसी तरह की कोई परेशानी उठानी ना पड़े।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close