बेमेतरा (नईदुनिया न्यूज)। अवैध उत्खनन के मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के तल्ख तेवर दिखाए हैंष उन्होंने पुलिस अधीक्षकों और कलेक्टरों को कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इस निर्देश का तत्काल असर जिले में देखने को मिला। शुक्रवार को पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त टीम ने ऐसे वाहनों पर कार्रवाई शुरू कर दी। टीम ने जिले में 37 वाहनों को रेत का परिवहन करते पकड़ा। वाहनों को संबंधित थानों में खड़ा किया गया है।

अवैध परिवहन करने वाले वाहनों की धरपकड़ कार्रवाई पूरे जिले में एक साथ की गई। शुक्रवार को पकड़े गए सभी 37 वाहनों को संबंधित थानों में खड़ा किया गया है। इस संबंध में बेमेतरा कलेक्टर भास्कर विलास संदीपा और पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र सिंह ने कहा कि लंबे समय से रेत के अवैध उत्खनन व परिवहन, ओवरलोड की बात सामने आ रही थी। इसके चलते यह कार्यवाही की गई। आगे भी यह कार्रवाई जारी रहेगी।

पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई से वाहन चालकों एवं मालिकों में हड़कंप मचा हुआ है। वाहन चालकों ने सफाई ने यह भी कहा कि उनके वाहनों में बाकायदा खनिज विभाग का पिट पास रखा हुआ है। रेत के पिट पास भी वे लेकर चल रहे हैं। इस संबंध में कलेक्टर ने स्पष्ट रूप से कहा कि वाहन में पाए गए कागजात की जांच की जाएगी। सामान्य तौर पर यह होता है कि एक वाहन एक पर्ची कटा कर पूरे दिन रेत के परिवहन में लगा रहता है। इस बात की जांच की जाएगी कि वाहन कितने समय खदान से निकला और कितने समय उस पर कार्रवाई की गई। वाहनों में ओवरलोड भी पाया गया है, जसि पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। बहरहाल जिले में चौतरफा कार्रवाई से वाहन मालिक दहशत में हे। वे अपने वाहनों का पतासाजी करने में लगे रहे। कोतवाली बेमेतरा में वाहन मालिकों व वाहन चालकों की भीड़ देखी गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local