बेमेतरा(नईदुनिया न्यूज)। परंपरा अनुसार मनाए जाने वाले दीपावली पर्व के ठीक 11वें दिन देवउठनी एकादशी अंचल में लोग छोटी दिवाली के रूप में मनाते हैं, जिसे लेकर आज सुबह से ही शहर में लोगों में जहां उत्साह देखा गया, वहीं शाम होते ही एक बार फिर से घर दीये की रोशनी से जगमगा उठे। घरों में जहां महिलाएं श्रद्घा से रंगोली सजाकर इस परंपरा को निभाई, वहीं शाम होते ही गन्ने का मंडप सजाकर तुलसी की पूजा अर्चना की गई। साथ ही भगवान शालिग्राम के साथ तुलसी विवाह की रस्म अदायगी की गई। वहीं बच्चों ने आतिशबाजी कर छोटी दीपावली पर्व की खुशियां मनाई। जैसे कि मान्यता है कि तुलसी विवाह के उपरांत शुभ कार्य की शुरुआत हिंदू परंपरा के अनुसार की जाती है। आज तुलसी विवाह हो जाने के बाद एक तरह से शादी ब्याह का सिलसिला शुरू भी हो जाएगा।

गन्नों के दाम भी काफी ज्यादा रहे

तुलसी विवाह के लिए लोगों द्वारा घरों में स्थापित तुलसी चौरा को गन्ने का मंडप सजा कर तुलसी विवाह की रस्म अदायगी की जाती है, जिसके चलते आज बाजार में गन्नों की खूब बिक्री हुई तथा इस बार औसतन गन्ने के दाम कुछ ज्यादा भी रहे। सामान्यतः 25 से 30 मिलने वाला गन्ना इस बार 50 से भी ऊपर में बिका।

परपोड़ी में लगा गन्ना बाजार

नगर पंचायत परपोड़ी में गन्ने का बाजार लगा। यहां अच्छी क्वालिटी के गन्ने 60 से लेकर 80 रुपये तक बिके। वहीं चना भाजी सौ रुपये किलो तक बिका है। लोगों ने रात को तुलसी विवाह में सिंघाड़ा, गन्ना, चना भाजी, बेर का भोग लगाकर पूजा-अर्चना की।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस