भिलाई (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कचरे के निष्पादन को लेकर भिलाई निगम की लापरवाही फिर सामने आ रही है। ठेका एजेंसी और भिलाई निगम द्वारा रोजाना 250 टन कचर ट्रेचिंग ग्राउंड में डंप किया जा रहा है। एसएलआरएम सेंटरों में रखी बेलिंग मशीन खराब हो चुकी है। जिसका संधारण नहीं किया जा रहा है। इसलिए प्लास्टिकों का निष्पादन नहीं हो पा रहा है।

बता दें कि भिलाई निगम में ठेका संबंधित विवाद चल रहा है। ठेका एजेंसी की जांच चल रही है। नतीजा शहर की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है। बजबजाती नालियां बीमारी को न्योता दे रही हैं। बड़ी मशक्कत के बाद जामुल स्थित ट्रेचिंग ग्राउंड को साफ कराया गया था। ट्रेचिंग ग्राउंड फिर से पुरानी व्यवस्था की तरफ लौट रहा है। सफाई ठेका एजेंसी व भिलाई निगम के स्वास्थ्य महकमे द्वारा रोजाना 250 टन कचरा ट्रेचिंग ग्राउंड में डलवाया जा रहा है। इसमें प्लास्टिक कचरे की भी बड़ी मात्रा है। दरअसल प्लास्टिक कचरे के निष्पादन के लिए लाइ गई बेलिंग मशीनें खराब पड़ी है।

भिलाई निगम क्षेत्रांतर्गत प्रतिदिन लगभग 450 टन कचरा निकलता है। जिसमें से 150 टन कचरा प्रतिदिन निगम द्वारा संचालित एसएलआरएम सेंटर जिसमें जोन-1 के नेहरू नगर पूर्व, नेहरू नगर रेशने आवास, पीली मिट्टी चौक स्थित एसएलआरएम सेंटर, जोन-2 के टेचिंग ग्राउण्ड के पास स्थित एसएलआरएम सेंटर, जोन-3 के बैकुठधाम स्थित एसएलआरएम, सेंटर जोन-4 शिवाजी नगर आइटीआइ के समीप स्थित एसएलआरएम सेंटर में जाता है। जहां पर कचरे से खाद बनाया जाता है। कचरे से उत्पादित खाद का प्रतिमाह लगभग आठ लाख 65 हजार रुपये निगम कोष में जमा होता है। बाकी बचे हुए शेष 250 टन कचरे को निगम के द्वारा निगम के टेचिंग ग्राउण्ड में फेंका जा रहा है।

बताया जा रहा है कि निगम के द्वारा निर्मित एसएलआरएम सेंटर में बेलिंग मशीन की व्यवस्था निगम के द्वारा की गई है। जिसके संधारण की जिम्मेदारी भी। ज्यादातर बेलिंग मशीनें खराब हो चुकी है। निगम के द्वारा मशीन का संधारण नहीं किया जा रहा है। बता दें कि बेलिंग मशीन के माध्यम से प्लास्टिक कचरों का निष्पादन किया जाता है। वहीं जोन-3 स्थित एसएलआरएम. सेंटर में बिजली की व्यवस्था नहीं है। जिसके कारण कोई भी मशीन कार्य नहीं कर पा रही है। जबकि एसएलआरएम सेंटर में बिजली एवं पानी की व्यवस्था निगम के द्वारा किया जाना है।

प्रकाश कुमार सर्वे, आयुक्त नगर निगम भिलाई ने कहा कि यह मामला मेरी संज्ञान में आया है। ट्रेचिंग ग्राउंड में जानकारी ली जाएगी। बेलिंग मशीनों का जल्द संधारण कराया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local