भिलाई। Bhilai News: एक युवक अपनी ही लापरवाही के चलते उठाईगिरी का शिकार हो गया। सीडीएम के माध्यम से खाता में रुपये जमा करने के लिए उसके पिता ने उसे रुपये दिए थे। युवक ने उन रुपयों में अपना और अपने दोस्त के रुपये को मिलाकर एक थैले में रखकर अपनी स्कूटी की डिक्की में रखकर अपने दोस्त के साथ हाउसिंग बोर्ड की तरफ बढ़ा। रास्ते में देना बैंक के पास उसे उसका एक दोस्त मिल गया। दोस्त ने पार्टी देने बोला तो वो भी तुरंत तैयार हो गया। उसने थैले में रखे रुपयों में से 500 रुपये निकाले और दारू भट्ठी से शराब खरीदी।

शराब पीने पिलाने के बाद वो होटल पर चाय पीने गया। वहां से पानठेला पर गुटखा लेने गया। इस दौरान उसकी स्कूटी और उसकी डिक्की में रखे रोड के किनारे लावारिस हालत में पड़े रहे। ये सब करने के बाद वो हाउसिंग बोर्ड के सीडीएम में रुपये जमा करने के लिए फिर से आगे बढ़ा। वो रुपयों को जमाने के लिए बैकुंठधाम के पास रुका और डिक्की खोलकर देखा तो उसमें से रुपयों वाला थैला गायब था। इसके बाद उसने छावनी थाना में शिकायत की। पुलिस ने अज्ञात आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी की है।

पुलिस ने बताया कि जेपी चौक कैंप-2 निवासी श्याम कुमार यादव (25) को गुरुवार को उसके पिता राममिलन यादव ने 55 हजार रुपये खाता में जमा करने के लिए दिया था। वो उन रुपयों को हाउसिंग बोर्ड एसबीआइ के सीडीएम में जमा करने के लिए अपने दोस्त ईश्वर के साथ निकला। पिता के दिए 55 हजार रुपये, अपने 13 हजार और अपने दोस्त के नौ हजार कुल 77 हजार रुपयों को उसने एक साथ कर के एक थैले में रखकर अपनी स्कूटी की डिक्की में रखा। देना बैंक के पास उसका दोस्त विशु उसे मिला।

विशु ने पार्टी देने बोला तो उसने डिक्की में से ही 500 रुपये निकाले और पास की दारू भट्ठी से शराब ली। इसके बाद वहां से वो चौरसिया होटल पर चाय पीने गया। फिर पास के पानठेले से गुटखा खरीदा। इसके बाद उसने अपने दोस्त ईश्वर को कैंप-2 जैतखाम के पास छोड़ा और वहां से अपने एक अन्य दोस्त विशाल को लेकर हाउसिंग बोर्ड की तरफ बढ़ा। रास्ते में बैकुंठधाम मैदान में रुककर उसने डिक्की खोला तो उसमें से रुपये वाला थैला गायब था। उसने पुलिस से शिकायत की है कि किसी अज्ञात आरोपित ने उसकी स्कूटी की डिकक्की से 76 हजार 500 रुपये निकाल लिए। घटना की शिकायत पर छावनी पुलिस ने प्राथमिकी कर जांच शुरू की है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close