भिलाई। अंजोरा देशी शराब दुकान के सामने कार की ठोकर से हुए युवक की मौत ने ग्रामीणों को उद्धेलित कर दिया है। पांच बार कलेक्टर जनदर्शन में शराब दुकान हटाने का आवेदन देने के बावजूद प्रशासन ने दुकान नही हटाया गृहमंत्री का विधानसभा क्षेत्र होने के बावजूद जनभावनाओं को लगातार दरकिनार किया गया।

नतीजतन कल एक बड़ा हादसा हो गया और मोके पर ही गांव के युवक की मौत हो गई। हादसा उस समय हुआ, जब सुरेश कौशिक नामक युवक देशी शराब दुकान से शराब लेकर लौट रहा था। दूसरे दिशा से आ रही तेज रफ्तार वाहन ने उसे जबरदस्त ठोकर मार दिया। घटनास्थल पर ही युवक ने दम तोड़ दिया।

ग्रामीण इस बात से आक्रोशित है कि लगातार उनकी मांगों के बावजूद शराब दुकान को वहां से हटाया नही गया। मुख्य मार्ग पर शराब दुकान के सामने हमेशा लोगो की भीड़ जमी रहती है। सरकारी प्रावधानों के मुताबिक मुख्य मार्ग पर शराब दुकान का संचालन नही किया जाना है। किंतु उक्त शराब दुकान के पीछे रसूखदार लोगो का हाथ होने के कारण उसे हटाया नही गया।

गांव के लोगों ने शराब दुकान के लिए दूसरा जगह तय भी कर लिया गया है। यहां तक उसका टेंडर भी हो चुका है। ग्राम पंचायत ने सहमति भी दे दी है। किंतु दुकान के किराए के चक्कर मे उसे अन्यत्र विस्थापित नही किया गया। बहरहाल आक्रोशित ग्रामीण मृतक के शव को सड़क पर रख कर आज आंदोलन कर सकते है। प्रशासन को भी इसका अंदेशा हो चुका है। युवक के शव का अभी पोस्टमार्टम हो रहा है। मरचुरी में अंजोरा के ग्रामीण बड़ी संख्या में जुट चुके है।

गैरेज में खड़ी तीन चार पहिया वाहन आग में जलकर हुए खाक

भिलाई के नेवई थाना क्षेत्र के अंतर्गत शीतला मंदिर के समीप स्थित राजू गैरेज में खड़ी तीन चार पहिया वाहनों में आग लग गई। जिसे नेवई थाने के पेट्रोल पार्टी ने देखा । इसके बाद अग्निशमन एवं आपातकालीन सेवा को सूचना दी गई। तत्काल फायर ब्रिगेड वाहन ने पहुंचकर इस आग पर काबू पाया ।

नेवई पुलिस ने बताया कि कल रात को तीन बजे गश्त के दौरान पेट्रोलिंग पार्टी ने देखा कि शीतला मंदिर के समीप स्थित राजू गैरेज में खड़ी तीन चार पहिया वाहनों में आग लगी हुई है। तत्काल पुलिस पार्टी के द्वारा आग को बुझाने का प्रयास करने के साथ-साथ पुलिस नियंत्रण कक्ष स्थित अग्निशमन एवं आपातकालीन सेवा को सूचना दी गई। इसके बाद फायर ब्रिगेड ने घटनास्थल पहुंचकर आगजनी को नियंत्रित किया। समय पर पुलिस की सजगता एवं फायर कर्मियों के प्रयास से आग को समीप स्थित रुई दुकान तक जाने से बचा लिया गया । आग फैलती तो स्थिति खतरनाक हो सकती थी ।आगजनी का कारण अज्ञात है।

Posted By: Ashish Kumar Gupta

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close