भिलाई/पाटन । पाटन के इंदिरा नगर में एक व्यक्ति की हत्या के मामले को सुलझाने के लिए पुलिस के सिपाहियों को शराब पीनी पड़ी। दरअसल काफी पूछताछ के बाद भी हत्या का मामला सुलझ नहीं रहा था। इसलिए पुलिस ने संदिग्ध लोगों को चिन्हित कर उनसे दोस्ती बढ़ाई। साथ में बैठकर शराब पी। नशे में एक व्यक्ति ने हत्या का क्लू दिया। फिर क्या था, पुलिस ने आरोपित को कांकेर में जाकर पकड़ा और सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या की बात स्वीकार ली।

पुलिस ने बताया कि इंदिरा नगर पाटन निवासी गोरांगो खुराना की हत्या के मामले में पुलिस ने उसके छोटे भाई इंद्रपाल को गिरफ्तार किया है। मृतक गोरांगो खुराना ने अपने छोटे भाई इंद्रपाल के बेटे सुधीर को रुपये चोरी करते हुए पकड़ लिया था और उसकी पिटाई कर दी थी।

इस बात का बदला लेने के लिए आरोपित इंद्रपाल ने 27 अक्टूबर को अपने बड़े भाई की गला घोंटकर हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसने अपने भाई के शव को फांसी पर लटका दिया था। ताकी वो इसे आत्महत्या साबित कर सके, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने उसकी प्लानिंग को फेल कर दिया। पीएम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने 19 नवंबर को हत्या का मामला दर्ज किया और अब जाकर इसे सुलझाने में सफलता मिली है।

ऐसे खुला मामला

घटना के दौरान घर पर आरोपित की पत्नी, बच्चे व उसके दो दोस्त सुजीत कुमार नेताम और सुभाष भी थे। सुजीत और सुभाष शराब के नशे में थे। सुजीत तो गहरी नींद में सोया हुआ था, लेकिन सुभाष ने सब कुछ देख लिया था।

आरोपित इंद्रपाल ने अपने परिवार वालों से कहा था कि यदि कोई पूछे तो बताना कि मृतक ने अपने घर पर फांसी लगाई है। वहीं सुभाष को धमकी दी थी कि यदि उसने इसके बारे में किसी को बताया तो वो उसे भी मार देगा। इसके बाद आरोपित इंद्रपाल कांकेर चला गया।

अपराध दर्ज होने के बाद शुरू की गई पूछताछ में कोई जानकारी नहीं मिली। इसके बाद पुलिस के सिपाहियों ने सुभाष और सुजीत से दोस्ती बढ़ाई। उनके साथ बैठकर शराब पीनी शुरू की। सुजीत से कोई क्लू नहीं मिला, लेकिन सुभाष ने नशे में हत्या का राज खोल दिया।

इसके बाद पुलिस की एक टीम कांकेर के लिए रवाना हुई और आरोपित को हिरासत में ले लिया। उससे सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपने भाई की हत्या की बात स्वीकार ली। इसके बाद पुलिस ने आरोपित के खिलाफ हत्या की धारा के तहत कार्रवाई की है।

- पाटन के इंदिरा नगर निवासी गोरांगो खुराना की हत्या के मामले में पुलिस ने उसी के छोटे भाई इंद्रपाल को गिरफ्तार किया है। आरोपित ने गला घोंटकर हत्या के बाद उसे आत्महत्या की शक्ल देने की कोशिश की थी। - अजय यादव, एसएसपी दुर्ग

Posted By: Sandeep Chourey

fantasy cricket
fantasy cricket