भिलाई । रिसाली सेक्टर निवासी एक युवक ने सब्जी में नमक ज्यादा होने की बात पर अपनी ही मां से मारपीट कर उसके गाल में दांत काट लिया। गुस्साए बेटे ने अपनी मां का गला दबाने की भी कोशिश की। घटना के समय घर पर मौजूद प्रार्थिया की बेटी ने बीच बचाव किया। शिकायत पर नेवई पुलिस ने आरोपित बेटे के खिलाफ अपराध दर्ज किया है।

सब्जी में नमक ज्यादा होने पर किया विवाद

पुलिस ने बताया कि रिसाली सेक्टर निवासी प्रार्थिया मीना बाई बघेल ने शनिवार की रात को अपने घर पर थी। रात में उसका बेटे तेज कुमार बघेल पहुंचा और खाना मांगा। प्रार्थिया ने उसे खाना दिया तो बेटे ने सब्जी में नमक ज्यादा होने की बात को लेकर विवाद शुरू कर दिया। कुछ ही देर में आरोपित बेटा काफी ज्यादा नाराज हो उठा और उसने अपनी मां से मारपीट शुरू कर दी।

बेटी लक्ष्मी ने मां को बचाया वरना...

आरोपित ने उसे जमीन पर पटककर उसके गाल में दांत काट लिया। प्रार्थिया के चिल्लाने पर उसकी बेटी लक्ष्मी बघेल दौड़कर उसके पास पहुंची और प्रार्थिया को बचाया। इसके बाद यह मामला थाने तक पहुंचा। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ गाली-गलौज, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है।

पैसे न मिलने पर शराबी पति ने मारा चाकू, पत्नी के हाथ व कमर में आई चोट

वहीं एक अन्य घटना में भिलाई में ही दारू पीने के लिए पैसे न मिलने पर एक शराबी ने अपनी पत्नी पर चाकू से हमला कर दिया। आरोपित शुक्रवार की रात को घर पहुंचा। उसने अपनी पत्नी से पैसों की मांग की। इनकार करने पर आरोपित ने उसे चाकू मार दिया।

घटना के दौरान आरोपित की भाभी और ननद भी वहां मौजूद थे, लेकिन उन्होंने भी आरोपित का ही साथ दिया। शिकायत पर खुर्सीपार पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि चंद्रमा चौक शिवाजी नगर खुर्सीपार निवासी प्रार्थिया मालती छत्री एक झोपड़ी में होटल चलाकर अपना गुजारा करती है। उसने शुक्रवार की रात को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसके पति कांतो छत्री, जेठानी लक्ष्मी और ननद कापली ने उससे मारपीट की है।

प्रार्थिया शुक्रवार की रात करीब 10 बजे खाना खाकर सो गई थी। रात में उसका पति कांतो छत्री शराब के नशे में आया और प्रार्थिया से एक हजार रुपये की मांग करने लगा। प्रार्थिया ने उसे रुपये देने से इनकार किया तो आरोपित ने उसे चाकू से मार दिया। घटना में प्रार्थिया के हाथ की अंगुली, कमर और पीठ में चोट लगी।

घटना के समय घर पर मौजूद प्रार्थिया की जेठानी लक्ष्मी और ननद कापली ने भी उसे बचाने की कोशिश नहीं की, बल्कि आरोपित का ही साथ दिया। प्रार्थिया रात में अस्पताल गई। वहां से इलाज कराने के बाद थाने पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने तीनों आरोपितों के खिलाफ गाली-गलौज, मारपीट, चाकूबाजी और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket