भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

रेल मिल कर्मचारी और बीएसपी स्कूल के शिक्षकों का कहना है कि उनका आर्थिक चपत लग रही है। पे-पॉकेट जिस रफ्तार से बढ़ना चाहिए नहीं बढ़ रहा। इसकी फिक्र सताए जा रही है। पहली प्राथमिकता पे पॉकेट बढ़ाना है। वेज रिवीजन, ईएल इनकैशमेंट का मुद्दा हल होने से उनको लाभ मिल सकता है।शिक्षा विभाग में वरिष्ठता और छुट्टियों में भेदभाव का आरोप प्रबंधन पर लगाया गया है।

इंटक पदाधिकारियों का प्रतिनिधिमंडल कर्मियों से मुलाकात करने गुरुवार को पहुंचा। उप महासचिव चंद्रशेखर सिंह से कर्मियों ने कहा कि हम मान्यता प्राप्त यूनियन से यही उम्मीद करते हैं कि वह जल्द से जल्द हमारा पे पाकेट बढ़ाए। यूनियन से मांग की गई कि ओपन एंडेड वेज रिवीजन कराए और ईएल इनकैशमेंट शुरू कराएं। इस दौरान आरके देवांगन, एसके दत्ता,अनंत टीसी पटेल, चोवा राम वर्मा, केके सिंह, अरविंद सिंह, बाल सिंह, एसके अहिरवार, एके चौबे, रविशंकर आदि उपस्थित थे। इंटक उपाध्यक्ष राजेंद्र पिल्ले एवं शिक्षा विभाग के प्रभारी सचिव बिपिन बिहारी मिश्रा ने सेक्टर-7, सेक्टर-6, सेक्टर-4,सेक्टर-10 स्कूल जाकर शिक्षकों से मिले। पेंशन स्कीम की जानकारी दी।राजेंद्र पिल्ले ने कहा कि सबसे पहली प्राथमिकता यही रहेगी कि कर्मियों का पे-पॉकेट जल्द से जल्द बढ़ाया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network