भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

हाउस लीज संयुक्त संघर्ष समिति की 280 वीं सप्ताहिक बैठक में आवास को लेकर एक बार फिर चर्चा की गई। वक्ताओं ने कहा कि जहां तक भिलाई में स्थाई बसाहट का मुद्दा हल नहीं होता, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। आवास लाइसेंस के संदर्भ में रिटेंशनधारी पूर्व कार्मिकों का दृष्टिकोण सेल के अन्य इकाइयों से अलग है।

बीएसपी से सेवानिवृत्ति के बाद पूर्व कार्मिकों ने निवासरत आवास को हाउस लीज पाने के लिए ही रिटेंशन में लिया है। इसके लिए मुख्य आधार एवं कारण है। बीएसपी स्थापना के स्वर्ण जयंती के उपलक्ष्य में तात्कालिक केंद्रीय इस्पात मंत्री रामविलास पासवान ने नौ फरवरी 2008 को सार्वजनिक सभा में उपहार के रूप में आवास लीज का छठवां चरण लागू करने की घोषणा की थी।

मंच पर तात्कालिक सेल चैयरमैन सुशील रुंगटा, एमडी. आर रामाराजू, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष प्रेम प्रकाश पांडेय भी रहे। सेल बोर्ड द्वारा उक्त आवास लीज का अनुमोदन- निर्णय भी किया जा चुका है। यहां यह बताना आवश्यक है कि लीज की ये घोषणा केवल भिलाई के लिए ही कि गई थी।

बैठक में अध्यक्ष राजेंद्र परगनिहा, पीआर वर्मा, पीसी शर्मा, राजेंद्र शर्मा, बीपी राजपूत, टीकम वर्मा, बीपी चौरसिया, शत्रुधन धनकर, नारद साहू, केआर. साहू, पुनाराम, तेनसिंह राजपूत, नंदकुमार वर्मा, हरेंद्र पांडेय, अनिल साहू, लियाकत अली, चेतन यादव, सत्यदेव प्रसाद, रमेश पाल, एसएल चंद्रवंशी, गजानंद आदि उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network