भिलाई। नईदुनिया प्रतिनिधि

भिलाई निगम द्वारा भिलाई इस्पात संयंत्र पर लगाए गए पांच अरब की पेनाल्टी पर मंगलवार को फैसला आएगा। हाईकोर्ट का आदेश क्या होगा इस पर भिलाई निगम व बीएसपी प्रबंधन दोनों की नजर लगी है।

बता दें कि भिलाई नगर निगम ने बीएसपी पर प्रापर्टी की गलत विवरणी देकर प्रापर्टी टैक्स कम देने का आरोप लगाते हुए पांच गुना पेनाल्टी का नोटिस भेजा था। दरअसल बीएसपी द्वारा पटाए गए प्रापर्टी टैक्स में 84 करोड़ का अंतर पाया गया था। लिहाजा भिलाई नगर निगम के राजस्व विभाग ने बीएसपी पर पांच गुना पेनाल्टी लगाते हुए पांच अरब जमा करने का नोटिस दिया था। इस नोटिस के बाद बीएसपी प्रबंधन में हड़कंप मच गया था। बीएसपी प्रबंधन ने नोटिस के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी। हाईकोर्ट में दोनों पक्षों की सुनवाई हुई। हाईकोर्ट द्वारा मंगलवार को इस पर फैसला सुनाया जाएगा।

बीएसपी ने राज्य सरकार से भी की थी अपील

नोटिस मिलने के बाद बीएसपी प्रबंधन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी अपील की थी। मुख्यमंत्री के सामने अपना पक्ष रखा था। उस वक्त ऐसा माना जा रहा था कि राज्य शासन की पहल से बीएसपी को राहत मिल सकती है, लेकिन राज्य शासन ने दोनों के आपसी बातचीत से मामला सुलझाने का मध्य मार्ग बताया था।

निगम प्रशासन को फैसला पक्ष में आने की उम्मीद

इधर भिलाई निगम प्रशासन को फैसला पक्ष में आने की उम्मीद है। प्रभारी आयुक्त व राजस्व अधिकारी अशोक द्विवेदी का कहना है कि कोर्ट में हमारा पक्ष मजबूत है। पूरे तथ्य व प्रमाणित दस्तावेज के साथ हमने अपना पक्ष रखा है। कोर्ट का फैसला आने का इंतजार है। मंगलवार दोपहर तक कोर्ट अपना फैसला सुना देगा।

Posted By: Nai Dunia News Network